आतंकवाद पूरे विश्व के लिये एक गंभीर चुनौती: मोदी

Mar 31, 2016

तीन देशों की यात्रा के पहले चरण में बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आतंकवाद पूरी मानवता के लिये एक गंभीर चुनौती बनी हुयी है.

उन्होंने कहा कि पूरे विश्व को मिलकर इससे लड़ना होगा.

श्री मोदी ने यहां भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुये कहा कि आतंकवाद किसी एक देश को नहीं बल्कि मानवता को चुनौती दे रहा है. भारत 40 सालों से आतंकवाद झेल रहा है लेकिन यह देश न कभी आतंकवाद के सामने झुका है और न ही झुकेगा. उन्होंने कहा कि जो लोग मानवता में विश्वास रखते हैं, उन्हें मिलकर आतंकवाद से लड़ना होगा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुनिया के 90 देश किसी न किसी आतंकी घटना के शिकार हुए. हजारों लोगों ने अपनी जानें गंवाई है. आतंकवाद किसी एक देश की चुनौती नहीं है बल्कि यह पूरे विश्व के लिये एक गंभीर चुनौती है. इस समय आतंकवाद पूरी मानवता को चुनौती दे रहा है. इसालिये मानवता में विश्वास करने वाली दुनिया की सारी शक्तियों का एक साथ मिलकर आतंकवाद से मुकाबला करना होगा. उन्होंने कहा कि युद्ध में भारत ने जितने जवानों को नहीं गवाया, उससे ज्यादा जवान आतंकवाद की गोलियों से शहीद हुए हैं. उन्होंने कहा कि सिर्फ बम, बंदूक से आतंकवाद को नहीं रोके जा सकते. हमें समाज में एक माहौल तैयार करना होगा.

श्री मोदी ने कहा कि जब धरती पैरों के नीचे से हिलने लगी तब दुनिया को पता चला कि आतंकवाद क्या होता है.

 

9/11 ने दुनिया को झकझोर दिया, तब तक दुनिया मानने को तैयार नहीं थी कि भारत कितने बड़े संकट को झेल रहा है, लेकिन भारत आतंकवाद के सामने झुका नहीं और झुकने का तो सवाल ही नहीं उठता. आतंकवाद के खिलाफ मुकाबला बहुत बड़ी चुनौती है.

श्री मोदी ने कहा कि इस समय विश्व अर्थव्यवस्था की हालत ठीक नहीं है और एक आम धारणा के रुप में सभी एक आशा की किरण लिये भारत की ओर देख रहे हैं क्योंकि इस समय भारत दुनिया में तेजी से बढ़ती हुयी अर्थव्यवस्था है. उन्होंने कहा कि गत वर्ष गरीबों को सबसे ज्यादा गैस कनेकशन देने का काम इस सरकार ने किया है. हमने देश के संपन्न लोगों से गैस सब्सिडी नहीं लेने का अनुरोध किया और उन्होंने ऐसा ही किया. उन्होंने कहा कि उनके अनुरोध पर पूरे देश में 90 लाख लोगों ने अपनी गैस सब्सिडी छोड़ दी. इस कारण गत एक वर्ष में गरीबों को सबसे ज्यादा गैस सिलेंडर दिये गये.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले तीन वर्षो में पांच करोड़ परिवारों को गैस सिलेंडर दिया जायेगा और इसका पूरा खर्चा सरकार उठाएगी. उन्होंने कहा कि 2015 में कोयले और बिजली का सबसे ज्यादा उत्पादन हुआ. इसके अलावा 2015 में ही गाय भैंस के दूध देने के अलावा इस वर्ष सबसे ज्यादा कार का उत्पादन भी हुआ. इसके साथ साथ गत वर्ष सबसे ज्यादा सोफ्टवेयर एक्सपोर्ट हुआ. उन्होंने कहा कि हमने जन धन-आधार मोबाइल (जाम योजना) शुरु किया है और गैस सब्सिडी को जन धन योजना से जोड़ने का काम किया है.

उन्होंने कहा कि हमने पड़ोसी देशें के साथ सदैव अच्छे संबंधों को अहमियत दी है. बंगलादेश के साथ जमीन सीमा का विवाद भी हल कर लिया गया है. इससे पहले ब्रसेल्स पहुंचने पर हजारों भारतीयों द्वारा प्रधानमंत्री का भव्य स्वागत किया गया. बेल्जियम में प्रधानमंत्री का यह आखिरी कार्यक्रम था. श्री मोदी इसके बाद अमेरिका के लिये रवाना होंगे.

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>