गैंगरेप पीड़ित किशोरी से बुरा व्यवहार के लिए महिला आयोग ने चिकित्सक को किया सम्मन

Aug 02, 2016

राष्ट्रीय महिला आयोग ने बुलंदशहर सामूहिक बलात्कार मामले में पीड़ित किशोरी का चिकित्सकीय परीक्षण करने वाले चिकित्सक को कथित तौर पर उससे बुरा व्यवहार करने और उससे भद्दे सवाल करने के लिए सम्मन किया.

आयोग ने साथ ही प्राथमिकी में पोक्सो कानून की धाराएं शामिल नहीं करने के लिए पुलिस को फटकार लगायी.
राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम ने कहा कि बुलंदशहर सामूहिक बलात्कार मामले में पीड़ितों से मिलने वाली आयोग की टीम को पीड़ित परिवार ने बताया है कि जब लड़की को चिकित्सकीय परीक्षण के लिए ले जाया गया तो उससे ‘‘चिकित्सक ने बुरा व्यवहार किया और उससे कई भद्दे सवाल किये और उसे डांटा.’’
सोमवार को उन्होंने कहा, ‘‘मामले की प्राथमिकी में पोक्सो कानून की धाराएं नहीं लगाई गई हैं. हमने इसका उनसे उल्लेख किया है. आयोग की सदस्यों ने उनसे पूछा कि प्राथमिकी में पोक्सो कानून की कोई धारा क्यों नहीं है, लेकिन किसी भी पुलिस अधिकारी ने उन्हें ठोस जवाब नहीं दिया.’’
उन्होंने कहा कि पुलिस के समक्ष यह मामला उठाये जाने के बावजूद पुलिस ने प्राथमिकी में अभी तक पोक्सो की धाराएं शामिल नहीं की हैं. मेरठ रेंज के डीआईजी लक्ष्मी सिंह ने बताया कि पोक्सो कानून प्राथमिकी में शामिल नहीं किया गया है.
कुमारमंगलम ने कहा कि आयोग की सदस्य पीड़ितों की काउंसलिंग कर रही है क्योंकि वे सदमे में हैं और उन्हें उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से ऐसी कोई सहायता की पेशकश नहीं की गई है.
उन्होंने कहा, ‘‘किशोरी और उसकी मां दोनों ही काफी सदमे में हैं. पुलिस ने उन्हें कोई काउंसलिंग की पेशकश नहीं की है, न तो क्लीनिकल और न ही मनोवैज्ञानिक.’’
आयोग ने यह भी आरोप लगाया कि पुलिस ने शुरू में उनकी टीम के सदस्यों को सामूहिक बलात्कार पीड़ितों से मिलने नहीं दिया.
उन्होंने कहा, ‘‘हमें पीड़ितों से नोएडा में मिलना था लेकिन पुलिस को जैसे ही हमारी योजना के बारे में पता चला वे उन्हें बुलंदशहर ले गई. जब हमारी टीम बुलंदशहर पहुंची, उन्होंने करीब एक घंटे तक हमारी सदस्यों को उनसे मिलने नहीं दिया. हमें उन्हें याद दिलाना पड़ा कि जो वे कर रहे हैं वह अवैध है.’’
मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.
शाहजहांपुर जा रहे परिवार की कार को शुक्रवार रात राष्ट्रीय राजमार्ग 91 पर डकैतों के एक समूह ने रोका. लुटेरे महिलाओं को पास के खेत में खींचकर ले गए और उनसे सामूहिक बलात्कार किया जबकि परिवार को बंदूक के बल पर लूट लिया गया.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>