लंदन में असांजे से स्वीडन के अधिकारियों को करने देंगे पूछताछ: इक्वाडोर

Aug 11, 2016

इक्वाडोर ने कहा कि वह लंदन स्थित अपने दूतावास पर स्विस अधिकारियों को जूलियन असांजे से मिलने की अनुमति देगा. विकीलीक्स संस्थापक असांजे ने जून 2012 से वहां शरण ले रखी है.

एक वक्तव्य में विदेश मंत्रालय ने बताया कि इक्वाडोर सरकार को लंदन में क्विटो के दूतावास में स्वीडिश अधिकारियों के साथ बैठक के लिए एक पत्र भेजा गया है. वक्तव्य में कहा गया है, ”बैठक आने वाले सप्ताहों में होगी.”

स्वीडन के अभियोजक असांजे से 2010 में उनके खिलाफ लगे बलात्कार के आरोप के सिलसिले में पूछताछ करना चाहते हैं.

45 वर्षीय असांजे ने जून 2012 में लंदन स्थित इक्वाडोर के दूतावास में तब शरण मांगी थी जब स्वीडन को अपने प्रत्यर्पण के खिलाफ वह ब्रिटेन में सारे कानूनी विकल्पों का इस्तेमाल कर चुके थे.

असांजे को डर है कि अगर उन्हें मुकदमे का सामना करने के लिए स्वीडन भेजा गया तो विकीलीक्स के हजारों गोपनीय दस्तावेजों के प्रकाशन को लेकर मुकदमे का सामना करने के लिए उन्हें अमेरिका प्रत्यर्पित किया जा सकता है और उन्हें लंबे कारावास या मौत की सजा का सामना करना पड़ सकता है.

असांजे ने कल स्टॉकहोम जिला अदालत के उस फैसले के खिलाफ अपील की थी जिसमें बलात्कार के आरोपों को लेकर उनके खिलाफ यूरोपीय गिरफ्तारी वारंट को कायम रखा गया था. उनके वकील टॉमस ओलसन ने कहा, ”हमने फैसले के खिलाफ अपील की है ताकि उन्हें अनुपस्थिति में हिरासत में रखा जाए.”

असांजे के वकीलों ने कहा है कि इसी वजह से वह अभियोजकों द्वारा पूछताछ किए जाने के लिए स्वीडन जाने से मना करते हैं.

मनमाने हिरासत पर संयुक्त राष्ट्र के एक कार्य समूह ने पांच फरवरी को अपने गैर बाध्यकारी फैसले में कहा कि इक्वाडोर के दूतावास में असांजे का बंद रहना स्वीडन और ब्रिटेन द्वारा उन्हें मनमाने तरीके से हिरासत में रखने के समान है.

ब्रिटेन और स्वीडन दोनों ने संयुक्त राष्ट्र समूह के निष्कर्षों के प्रति आपत्ति जताई है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>