सुब्रमण्यन के निशाने पर अब मोदी सरकार के आर्थिक सलाहकार, अरविंद सुब्रमण्यन

Jun 22, 2016

आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन के बाद भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी के निशाने पर अर्थशास्त्री और मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन आ गए हैं.

स्वामी ने अरविंद सुब्रमण्यन पर भारत के खिलाफ कार्रवाई करने का आरोप लगाते हुए उन्हें हटाने की मांग की है.

स्वामी ने बुधवार को एक के बाद एक ट्वीट कर कहा, ‘‘अमेरिकी कांग्रेस को 13 मार्च 2013 को किसने कहा था कि अमेरिकी फार्मा उद्योग के हितों की रक्षा के लिए भारत के खिलाफ कार्रवाई करना चाहिए. अरविंद सुब्रमण्यम. वित्त मंत्रालय. उन्हें हटाया जाए.’’

स्वामी ने निशाना उस समय साधा है जब ऐसी खबरें आ रही हैं कि अरविंद सुब्रमण्यम को देश के केंद्रीय बैंक के प्रमुख के तौर पर राजन के संभावित उत्तराधिकारी के रूप में माना जा रहा है.

ये भी पढ़ें :-  मोदी के 'कब्रिस्तान और श्मशान भूमि' वाले बयान पर, चुनाव आयोग से शिकायत करेगी कांग्रेस

उन्होंने कहा, ‘‘अंदाजा लगाएं कि किसने कांग्रेसियों को जीएसटी के प्रावधानों पर दृढ़ होने को कहा? जेटली के वाशिंगटन डीसी के आर्थिक सलाहकार अरविन्द सुब्रमण्यम.’’

उन्होंने कहा कि सुब्रमण्यम ‘‘जेटली को हमारे खेमे में मौजूद दुश्मन की पहचान करने में मदद कर रहे हैं.’’

स्वामी ने मुख्य आर्थिक सलाहकार के खिलाफ कई ट्वीट किए. उल्लेखनीय है कि अरविन्द सुब्रमण्यम प्रवासी भारतीय हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘अब ट्विटर पर मौजूद देशभक्त लोग समझ सकते हैं कि हमारे मुख्य आर्थिक क्षेत्र पिछले दो साल से अच्छा प्रदर्शन क्यों नहीं कर रहे. दुश्मन के लोग (ट्रोजन हॉर्स) वित्त मंत्रालय. वित्तीय संस्थानों में भरे पड़े हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘क्या अरविंद सुब्रमण्यम भारत के खिलाफ अमेरिका संसदीय समिति के सामने भारत के खिलाफ अमेरिकी नागरिक के तौर पर पेश हो रहे थे या किसी भारतीय के तौर पर. ट्विटर पर मौजूद देशभक्तों का पता है.’’

ये भी पढ़ें :-  मोदी के 'कब्रिस्तान और श्मशान भूमि' वाले बयान पर शिकायत करने से पीछे हटी कांग्रेस

 

स्वामी के इस हमले पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह अरविंद सुब्रमण्यम पर नहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली पर निशाना साध रहे हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा कि क्या वह वित्त मंत्रालय स्वामी को सौंप रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘सुब्रमण्यम स्वामी अब राजग के आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम पर निशाना साध रहे हैं. लक्ष्य अरुण जेटली हैं न अरविंद सुब्रमण्यम नहीं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘क्या मोदी वित्त मंत्रालय सुब्रमण्यम स्वामी को सौंप रहे हैं.’’

सिंह ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘वह दावा करते रहे हैं कि प्रधानमंत्री ने आश्वस्त किया है कि यदि वह नेहरू-गांधी परिवार पर निशाना साधते हैं तो उन्हें बदले में कुछ मिलेगा.’’

ये भी पढ़ें :-  रामजस कॉलेज हिंसा मामले में 3 पुलिसकर्मी निलंबित

स्वामी ने इससे पहले राजन पर तीखा प्रहार किया था जिन्होंने पिछले सप्ताह यह घोषणा की कि चार सितंबर को आरबीआई गनर्वर का कार्यकाल समाप्त होने पर पठन-पाठन के क्षेत्र में वापस लौट आएंगे.

स्वामी ने कहा था कि राजन इस पद के योग्य नहीं हैं और वह मानसिक रूप से पूरी तरह भारतीय नहीं हैं.

संयोग से राजन और सुब्रमण्यम दोनों ने अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष में काम किया है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected