बैंक अकाउंट में हर माह जमा करें 1000 और बेटी की शादी को लेकर हो जाएं टेंशन फ्री

Jan 11, 2017
बैंक अकाउंट में हर माह जमा करें 1000 और बेटी की शादी को लेकर हो जाएं टेंशन फ्री
बेटी पैदा होते ही  माँ बाप शादी की चिंता में पड़ जाते हैं. सोचते हैं कि शादी के खर्च का कैसे जुगाड़ होगा. इस चिंता को दूर करने के लिए केंद्र सरकार 2014 में ही  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कैंपेन के तहत सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत कर चुकी है. मगर अधिकांश माँ बाप को इसका पता ही नहीं है. आप आसानी से इस योजना का फायदा उठा कर अपनी बिटिया का सुनहरा भविष्य सुनिश्चित कर सकते हैं।
क्या है योजना
पीएम नरेंद्र मोदी ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरूआत 4 दिसंबर, 2014 को थी। यह एक लॉन्ग-टर्म डेट स्कीम है, जिसमें कोई भी शख्स बेटी के जन्म से लेकर उसके 10 साल की हो जाने तक कभी भी अकाउंट खुलवा सकता है। यह अकाउंट बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवाया जा सकता है।
यह अकाउंट बच्ची के 21 साल की होने तक जारी रहेगा। बेटी की पढ़ाई व शादी की टेंशन खत्मः खाता खुलवाने के समय 1000 रुपए चाहिए, जो कैश, चैक, और ड्राफ्ट में जमा हो सकते हैं। यह योजना बालिका के जन्म से लेकर शादी करने तक परिजनों को आर्थिक मजबूती प्रदान करती है। यह योजना घटते लिंगानुपात के बीच कन्या जन्म दर को प्रोत्साहन देने में मदद करेगी। बेटी की पढ़ाई व शादी के लिए पैसे की टेंशन दूर करने में मदद करेगी।
खाता खुलवाने के लिए लड़की का जन्म प्रमाणपत्र, अभिभावक का पहचान प्रमाण पत्र और निवास प्रमाण-पत्र की आवश्यकता होगी। यह खाता पोस्ट ऑफिस और केंद्र सरकार द्वारा अधिकृत किसी भी बैंक में खोला जा सकेगा।
माता-पिता दोनों या फिर दोनों में से एक अथवा दोनों के न होने की स्थिति में कानूनी अभिभावक पैसा जमा कर सकते हैं। साल में 1 हजार रुपए और अधिकतम डेढ़ लाख रुपए जमा कराए जा सकते हैं। किसी साल मिनिमम जमा नहीं करा पाते हैं तो अगले साल पिछले साल की ड्यू रकम के अलावा 50 रुपए पेनल्टी देनी होगी।
खाता खोलने से 14 साल तक इस स्कीम में पैसा जमा कराना होगा।
ये भी पढ़ें :-  गुजरात चुनाव: BJP नेता रैली में बोले- 'दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें'
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>