‘बूचड़खाने बंद करने के नाम पर मांस विक्रेताओं का उत्पीड़न बंद हो’- माकपा

Mar 23, 2017
‘बूचड़खाने बंद करने के नाम पर मांस विक्रेताओं का उत्पीड़न बंद हो’- माकपा

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने प्रदेश सरकार द्वारा अवैध बूचड़खाने बंद किए जाने के नाम पर मांस विक्रेताओं के उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए इस पर विरोध जताया है।

पार्टी के राज्य सचिव हीरालाल यादव ने कहा, “पार्टी की राज्य परिषद ने भाजपा सरकार द्वारा अवैध बूचड़खाने बंद करने के नाम पर मीट दुकानदारों तथा वैधानिक रूप से चल रहे बूचड़खानों के मालिकों को उत्पीड़ित तथा आतंकित करने का विरोध किया है।”

पार्टी ने कहा कि जहां तक अवैध बूचड़खाने की बात है, या कोई अन्य अवैध काम का सवाल है, तो उसे रोके जाने पर कोई ऐतराज नहीं हो सकता।

माकपा ने कहा है कि सरकार को सुनिश्चित करना चाहिए कि अवैध के नाम पर वैध एवं जायज धंधा करने वालों का उत्पीड़न न हो।

ऑल इंडिया बफैलो मीट एक्सपोर्ट एसोसिएशन के महासचिव एस. सब्बरवाल ने भी इस धंधे में हो रहे करोड़ों के नुकसान पर चिंता व्यक्त की है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>