तीन माहिने से पत्थर और सीमेंट का काम बंद

Mar 06, 2016

केदारनाथ धाम ढाई वर्ष से पुनर्निर्माण के दौर से गुजर रहा है। एमआई-26 हेलीपैड पर 120 कॉटेज निर्माण के लिए फ्रेम खड़े किए जा रहे हैं। वहीं मंदाकिनी व सरस्वती नदी के संगम पर स्नानघाट व मंदिर से क्रमश: 4 और 6 सौ मीटर पीछे आरसीसी व रॉक नेट सुरक्षा दीवार बननी है।

बिगडैल मौसम से तीन माह से सरिया, सीमेंट व पत्थर का काम नहीं हो रहा है। अधिकांश समय तापमान माइनस में होने से सीमेंट व टाइल्स सेट नहीं हो पा रही हैं। धाम में तीर्थ पुरोहितों के लिए 107 भवन भी बनाए जाने हैं, जो बुनियाद से आगे नहीं बढ़ पाए हैं। केदारनाथ में पुनर्निर्माण के दूसरे चरण के कार्यों को मई माह तक पूरा किया जाना है।

सुरक्षा दीवार पर लगाई जा रही नेट
मौसम की बेरुखी के बीच इन दिनों केदारनाथ में एमआई-26 हेलीपैड पर बन रहे कॉटेज के लिए वेल्डिंग से फ्रेम को जोड़ा जा रहा है। 52 कॉटेज के फ्रेम जोड़ दिए गए हैं। इसके अलावा निम मंदिर के पीछे रॉक नेट वाल पर वेल्डिंग से नेट को जोड़ा जा रहा है।

कोट-
केदारनाथ में पिछले तीन माह से मौसम का मिजाज पहेली बना हुआ है। सीमित बर्फबारी के बावजूद सर्दियों में तापमान कई दिन माइनस में होने से पुनर्निर्माण प्रभावित हो रहे हैं। – देवेंद्र बिष्ट, मीडिया प्रभारी निम, केदारनाथ

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>