NIT विवाद ने लिया भयानक रूप : तिरंगा लेकर 150 छात्र श्रीनगर रवाना, कुछ भी हो जाये तिरंगा फहरा कर ही वापस लौटेंगे

Apr 11, 2016

श्रीनगर एनआईटी में हुए विवाद के विरोध में दिल्ली से तिरंगा लेकर श्रीनगर के लिए रवाना हुए करीब डेढ़ सौ छात्रों पुलिस ने जम्मू-कश्मीर की सरहद में घुसने से रोक दिया है. तेजिंदर पाल और उनके साथी कार्यकर्ताओं को लखनपुर-माधोपुर बॉर्डर पर रोका गया है. पुलिस और मजिस्ट्रेट उन्हें समझा रहे हैं कि वे वापस लौट जाएं, उन्हें राज्य में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा. लेकिन तेजिंदर पाल और उनके समर्थकों ने कहा है कि वे श्रीनगर NIT में तिरंगा फहरा कर ही वापस लौटेंगे.

इस बीच तेजिंदर पाल और उनके समर्थक जम्मू-पठानकोट नेशनल हाईवे पर धरना प्रदर्शन शुरू कर चुके हैं. उन्होंने जम्मू-कश्मीर की पुलिस से सवाल किया है कि उन लोगों को आगे बढ़ने से क्यों रोका जा रहा है. पुलिस का कहना है कि अगर ये लोग NIT श्रीनगर पहुंच जाएंगे तो वहां कानून-व्यवस्था गड़बड़ा सकती है. नौजवानों का कहना है कि भले ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाए लेकिन वे तिरंगा फहरा कर ही रहेंगे.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर और पंजाब पुलिस ने पहले ही निर्णय किया था कि वे तेजिंदर पाल और उनके साथी कार्यकर्ताओं को लखनपुर-माधोपुर सीमा पर रोकेंगे. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने राज्य में प्रवेश से पहले माधोपुर पुल पर बड़ी संख्या में जवानों की तैनाती कर दी है. पंजाब पुलिस ने भी सुजानपुर में ऐसी ही तैयारियां की हैं.

गौरतलब है कि देश के 12 राज्यों से 150 चुने हुए छात्रों ने दिल्ली से श्रीनगर के लिए रवानगी के वक्त तिरंगा लहराया और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए. इस विवाद में जम्मू-कश्मीर के डिप्टी सीएम निर्मल सिंह के साथ छात्रों की करीब छह घंटे की मैराथन मुलाकात हुई. इस दौरान सिंह ने छात्रों को सुरक्षा का भरोसा देते हुए कहा कि दोषी पुलिस अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

हालात शांत होने की उम्मीद
सिंह ने बताया कि इस मामले में मजिस्टेरियल जांच चल रही है. निर्मल सिंह ने सोमवार तक हालात शांत होने की जताई उम्मीद है. उन्होंने कहा कि छात्रों ने अपनी सुरक्षा का मामला उठाया है और हमने उन्हें पूरी सुरक्षा मुहैया कराने का वादा किया है.

गरमा सकता है श्रीनगर NIT विवाद
दिल्ली से शनिवार को श्रीनगर एनआईटी के लिए 12 राज्यों से डेढ़ सौ नौजवान कूच कर गए. करीब डेढ़ सौ छात्र बाइक और कार से तिरंगा लेकर श्रीनगर रवाना हुए. श्रीनगर रवाना होने से पहले युवकों ने राजधानी में जागरुकता रैली भी निकाली.

सीएम की चुप्पी पर सवाल
वहीं एनआईटी विवाद में सीएम महबूबा मुफ्ती की चुप्पी पर उमर अब्दुल्ला ने सवाल उठाया. उमर ने कहा कि चुप्पी हमेशा ठीक नहीं होती है, मुफ्ती को इस मामले में अपना बयान देना चाहिए

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>