तांत्रिक के कहने पर, मां पकड़ती थी पैर और बाप करता था बेटी से रेप

Sep 08, 2016
तांत्रिक के कहने पर, मां पकड़ती थी पैर और बाप करता था बेटी से रेप

इस खबर से मां-बाप और भाई-बहिन के पवित्र रिश्तों पर से तो विश्वास उठ ही जायेगा, बाकि इस घटना से आप जान जायेंगे कि ना केवल लड़कियां बल्कि अब आप भी सुरक्षित नहीं रह पायेंगे । दरअसल ये घटना है लखनऊ की । जहां एक मां और बाप अंधविश्वास में इस कदर पागल हुए कि अपने ही घर की मामूस बच्ची की जिंदगी बर्बाद कर दी ।

लखनऊ की रहने वाली एक लड़की की कहानी कलयुग की सच्ची कहानी है जो कुछ ही दिन पहले सामने आई है । बाप को एक दिन एक अनजानी बीमारी ने जकड़ लिया और जब डॉक्टरों भी बीमारी को पहचान नहीं पाये तो उन लोगों ने एक तांत्रिक का सहारा लिया । तांत्रिक ने जो इलाज बताया जो चौंका देने वाला था । तांत्रिक ने कहा कि तुम्हारी बेटी का साया ही तुम्हारी जान लेने वाला है । उसने कहा कि अगर बाप अपनी ही बेटी से सेक्स करेगा तो उसकी जान बच सकती है । बाप और मां दोनों उस तांत्रिके कहे अनुसार करने लगे । मां जबरन लड़की को पकड़ती और बाप उससे सेक्स करता । ये बाप पिछले 9 साल से अपनी ही मासूम से दुष्कर्म कर रहा था । मां-बाप ने कई बार लड़की का गर्भपात भी करवाया ।

ये भी पढ़ें :-  छग : नक्सलवाद प्रभावित गांवों, मजरों तक पहुंची बिजली

लड़की किसी तरह अपनी जान बचाकर एक दिन घर से निकल गई और यूपी के सीएम अखिलेश यादव के पास जाकर उसने बचा लेने की गुहार लगाई । हांलाकि अब लड़की के मां-बाप जेल की हवा खा रहे हैं लेकिन ये घटना हर समाज के मुंह पर तमाचा है। अभी तक उस तांत्रिक का पता नहीं चल पाया है । अब यह बच्ची एक सामाजिक संस्था के पास हैं जहाँ वह ब्यूटी से जुड़ा हुआ लघु उद्योग चला रही है। आज बेशक लड़की अपनी जिंदगी से खुश है, लेकिन अपने बीते कल को याद कर लड़की रोने लगती है । यूपी में रेप की दर्दनाक घटनाएं होती रहती हैं लेकिन बेटियां अगर अपने ही घर में सुरक्षित नहीं हैं तो इससे बड़ी विडंबना और कोई हो हीं नहीं सकती ।

ये भी पढ़ें :-  अखिलेश का वादा, चुनाव के बाद रोज मिलेंगे पत्रकारों से

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected