सपा नेता का योगी सरकार पर निशाना- कहा, RSS के एजेंडे पर काम कर रही है सरकार

Oct 16, 2017
सपा नेता का योगी सरकार पर निशाना- कहा, RSS के एजेंडे पर काम कर रही है सरकार

उत्तर प्रदेश के प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी ने आज राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार आरएसएस के एजेंडा के तहत काम कर रही है।

बता दें कि विधानसभा में एसपी और विपक्ष के नेता राम गोविंद चौधरी ने यहां संवाददाताओं से कहा है कि उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरएसएस की तारीफ की थी और कहा था कि “आरएसएस की वजह से ही हमने वन्दे मातरम को जाना है।” आगे उन्होंने कहा कि “ये योगी सरकार संघ के एजेंडे के अनुसार काम कर रही है और ये प्रदेश की पहली सरकार है, जो आम जन की नहीं बल्कि केवल बीजेपी और संघ की है।”

राम गोविन्द चौधरी ने पत्रकारों से कहा कि योगी सरकार संघ के एजेंडे के तहत ही उत्तर प्रदेश में रह रहे बांग्लादेशी लोगों का सर्वे करा रही है। और यही वजह है कि संघ के ही कहने पर योगी सरकार ऐसा कर रही है। रोहिंग्या से आये मुसलमानों पर सर्वेक्षण कर रही है, ये उसको दोहरा व्यव्हार है। उन्होंने कहा कि वसुधैव कुटुम्बकम हमारा मूल मंत्र है जिसे अपनाकर ही हम शान्ति व सद्भाव के साथ रहते हैं। भारत में जो भी लोग निवास करते हैं, उन्हें यहां रहने का हक है।

उन्होंने भारत में रह रहे विदेशियों पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि अगर उनको देश से निकाला जाए तो क्या होगा। या फिर ऐसा व्यवहार सिर्फ रोहिंग्या मुसलमानों के साथ ही क्यों ? उन्होंने गुजरात में योगी के प्रचार प्रसार पर चुटकी लेते हुए कहा कि “नरेन्द्र मोदी और अमित शाह गुजरात में फेल हो चुके हैं। अब हिन्दू कार्ड खेलते हुए योगी आदित्यनाथ को प्रचार के लिए बुलाया गया है।” इसलिए गुजरात चुनाव जीतने के लिए भगवा धारी योगी को चुना और प्रचार करवाया जा रहा है। सारे देश की जनता अब भाजपा के एजेंडे को समझ चुकी है यही वजह है कि उनकी हालत ख़राब हो रही है। उपचुनावों में हार का समान करना पड़ रहा है, और सभी लोग अब बीजेपी के चेहरे से वाकिफ हो चुके हैं। इसलिए अब योगी गुजरात में कुछ भी नहीं कर पाएंगे। क्योंकि वह उत्तर प्रदेश में असफल हो चुके हैं, जनता उनसे परेशान हो चुकी है इसलिए उनका वहां जाना बेमानी साबित होगा।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>