सपा नेता ने CDO को लिखा लेटर, हम यादव है हमें अनुसूचित जाति के अधिकारी के साथ काम करने में दिक्कत हो रही है

Jul 20, 2016

समाज की नसों में जातिवादी जहर किस कदर दौड़ रहा है, इसका नमूना लखनऊ में सामने आया है। यूं तो यह वाकया सिर्फ एक ग्राम प्रधान की हैसियत रखने वाली महिला सपा नेता से जड़ा है। मगर खबर उनके कद से नहीं उनकी ओछी सोच से बड़ी हो जाती है। उनके एक लेटर ने वो स्याह सच सामने लाया है कि आज भी अनुसूचित जाति के लोगों को ऊंची जाति के लोग कितने गलत नजरिए से देखते हैं।

मामला यह है कि महिला ग्राम प्रधान ने समाजवादी रंग में रंगे लेटर पैड पर लखनऊ के मुख्य विकास अधिकारी(सीडीओ) को पत्र लिखकर गांव में तैनात अनुसूचित जाति के पंचायत सचिव को हटाने की मांग कर दी। तर्क दिया है कि उनका गांव पिछड़ी जाति बाहुल्य है। ऐसे में यहां अनुसूचित जाति के अधिकारी के साथ उन्हें काम करने में दिक्कत है। यादव अधिकारी की नियुक्ति होनी चाहिए।

ये भी पढ़ें :-  मुख्यमंत्री बनने पर योगी को पिता की सलाह – ‘मुसलमानों से अब भेदभाव न करना’

लेटर में सुमन यादव ने क्या लिखा

सरोजनी नगर ब्लाक के भटगांव की ग्राम प्रधान सुमन यादव ने सीडीओ को संबोधित रिमांइडर लेटर 16 जून को लिखा है। जिसमें कहा है कि हमारे गांव में पिछडी जाति के लोग ज्यादा है. मग गांव में ट्रांसफर होकर आए ग्राम पंचायत सचिव अरविंद कुमार अनुसूचित जाति के हैं। हमें उनके साथ काम करने में बहुत कठिनाई हो रही।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>