सपा ने रामपाल को किया ऑउट, दामन पर लगने वाले गुंडाराज के दाग गए धुल

Apr 29, 2016

लखनऊ। कहते हैं कि इश्क और जंग में सब जायज है। उसी तरह यह भी तय है कि सियासत में सब कुछ जायज है। यही वजह है कि चुनाव से पहले अखिलेश सरकार अपने दामन पर लगने वाले गुंडाराज के दाग को अपने विधायक रामपाल यादव को पार्टी से 6 साल के लिए निलंबित कर धो लिया है। क्योंकि सरकार के पास इस कलंक को धोने का इससे अच्छा मौका नहीं था। इसके साथ ही एक तीर से दो निशाना भी लग गया, इधर दाग भी धुल गया, उधर रामपाल के बागी होने की दुश्मनी भी बराबर हो गयी।

दरअसल, सीतापुर विधायक रामपाल यादव के धौंस दिखाने पर डीएम राजशेखर ने खुद मोर्चा संभाल लिया और अपने सामने विधायक की अवैध बिल्डिंग को जमींदोज करा दिया। ठीक उसके बाद रामपाल के गृह जनपद सीतापुर में भी उनके होटल पर चले बुल्डोजर से साफ हो गया कि रामपाल पर कार्रवाई के लिए अफसरों को पूरी आजादी मिली थी। इसके पीछे की एक वजह यह भी हो सकती है कि सरकार इस कार्रवाई के जरिए संदेश देना चाहती है। कि सरकार गुंडागर्दी करने वालों को किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं करने वाली है।

इस कार्रवाई में दबंग विधायक सहित 9 के विरुद्ध संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। एलडीए के इंजीनियर अलोक रंजन गुप्ता की तहरीर पर गौतमपल्ली थाने में पुलिस ने दबंग विधायक रामपाल यादव, राजेन्द्र यादव, जितेंद्र यादव, पुष्पेन्द्र यादव, शिवेंद्र यादव, गगन यादव, तौकीर अहमद, शिव कुमार, आरती यादव के विरुद्ध धारा-147, 148, 149, 307, 336, 504, 352, 353, 506, 7 सीएलए एक्ट और एनडी आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर सभी को गिरफ्तार कर लिया है। जिसमें जितेंद्र के पास लाइसेंसी पिस्टल और 32 बोर के चार कारतूस, पुष्पेन्द्र के पास भी एक लाइसेंसी पिस्टल और 7 कारतूस बरामद हुआ है। वहीं उम्मीद है कि सीएम इस मसले पर सफाई भी दे सकते हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>