100 रुपए में अब आप बहुत जल्द कर सकेंगे पूरे साल इंटरनेट यूज़

Jun 09, 2016

नई दिल्ली (टीम डिजिटल)। बहुत जल्द आप 100 रुपए में पूरे साल इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकेंगे। यह सब वर्चुअल नेटवर्क आप्रेटर (वी एन ओ) के जरिए होगा। दूरसंचार नियामक ट्राई ने इसके लिए नए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं।

डाटाविंड को इसकी मंजूरी मिल गई है और वह इस साल के अंत तक इसकी शुरूआत कर सकती है। अन्य कम्पनियां भी दौड़ में हैं।

कम्पनियों में होड़ बढ़ेगी
ट्राई ने वी एन ओ के लाइसैंस का अधिकतम शुल्क 7.5 करोड़ रुपए रखा है। इससे नए वी एन ओ शुरू करने की होड़ बढ़ेगी।

क्या है वी एन ओ
यह पहले से दूरसंचार क्षेत्र में कार्यरत वह क्षेत्रीय इकाइयां हैं जो उपभोक्ताओं से सीधे तौर पर सेवाओं के जरिए जुड़ी हुई हैं। इनमें केबल आप्रेटर मोबाइल निर्माता और इलेक्ट्रानिक वॉलेट (ई-वॉलेट) और अन्य कारोबार से जुडे समूह हैं। यह किसी दूरसंचार कम्पनी के साथ मिलकर वर्चुअल नेटवर्क की सुविधा देते हैं।

ये भी पढ़ें :-  शेयर बाजारों में गिरावट, सेंसेक्स 80 अंक लुढ़का

सस्ती और आसान पहुंच
वी एन ओ वीडियो कॉलिंग, इंटरनेट और वॉयस कॉल की भी सुविधा दे सकेंगे। देश की प्रमुख दूरसंचार कम्पनियों की पहुंच अभी भी क्षेत्रों में नहीं है। ऐसे में किसी क्षेत्रीय केबल आप्रेटर या अन्य सेवा प्रदाता के जरिए वह उपभोक्ताओं तक आसानी से पहुंच सकती है।

वी एन ओ से राजस्व में हिस्सेदारी भी कर सकेंगी। इससे भविष्य में इंटरनेट दरों में और कमी की गुंजाइश बन सकती है। वी एन ओ देश के ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट की पहुंच को आसान कर देगा। सरकार का लक्ष्य 2017 तक प्रति व्यक्ति टेलीफोन (सभी दूरसंचार सेवाएं) उपलब्धता 70 और वर्ष 2020 तक 100 प्रतिशत तक पहुंचाना है। इसी के मद्देनजर सरकार ने वी एन ओ के लिए आसान नियम बनाए हैं।

ये भी पढ़ें :-  शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में मामूली बढ़त

विदेश में लोकप्रिय वी एन ओ
अमरीका और यूरोप में वी एन ओ बहुत लोकप्रिय हैं। इसकी वजह से यूरोप में पति व्यक्ति टेलीफोन उपलब्धता 100 प्रतिशत से भी ऊपर पहुंच गई है। स्मार्ट फोन के उपयोग से वी एन ओ की लोकप्रियता में और इजाफा हुआ है।

‘‘इसके लिए कई दूरसंचार कम्पनियों से बात चल रही है। वहीं ई-वॉलेट कम्पनी ऑक्सीजन सरकारी दूरसंचार कम्पनी बी एस एन एल से बात कर रही है। उसका कहना है कि इस साल के अंत तक वह इसकी शुरूआत कर सकती है। -सुनीत सिंह तुली, संस्थापक और मुख्य कार्यकारी (डाटाविंड)

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

ये भी पढ़ें :-  रिलायंस जियो के ग्राहकों की संख्या 10 करोड़ के पार
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected