सोशल मीडिया पर चल रहा है मनोवैज्ञानिक युद्ध: राज्यवर्धन सिंह

Jul 27, 2016

कश्मीर में जारी अशांति के मद्देनजर केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने मंगलवार को कहा कि साइबर जगत में लड़ा जाने वाला ‘मनोवैज्ञानिक युद्ध’ हमारे समय का ‘नया खतरा’ है.

उन्होंने नए युग के इस युद्ध में मुकाबला करने के लिए लोगों से ‘सोशल मीडिया सैनिक’ बनने का अनुरोध किया.

उन्होंने कहा कि दुनिया बदल रही है. पहले पारंपरिक युद्ध होते थे फिर परमाणु युद्ध हुए और फिर ‘लिमिटेड इन्टेंसिटी वार’ (जैसे करगिल युद्ध) हुआ. लेकिन आज का खतरा साइबर युद्ध है और वह भी इस मनोवैज्ञानिक युद्ध के जरिए. यह मनोवैज्ञानिक युद्ध सबसे बड़ा युद्ध है.

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री यहां कांस्टीट्यूशन क्लब में करगिल विजय दिवस मनाने के लिए जम्मू कश्मीर पीपुल्स फोरम द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हाल ही में कश्मीर में एक आतंकवादी मारा गया जैसे कि कई अन्य आतंकी मारे जाते हैं.

ये भी पढ़ें :-  जीएसटी को समझने के लिए देशभर में चर्चा हो : मोदी

उन्होंने कहा कि उस आतंकवादी पर करीब 1,25,000 ट्वीट हुए जिनमें से 49,000 भारत से हुए, 52,000 अज्ञात स्थानों से और 10,000 पाकिस्तान से हुए. सेना के अपने दिनों को याद करते हुए राठौड़ ने कश्मीर का अनुभव साझा किया जहां एक बार उन्हें आतंकवादियों को मार गिराने के लिए उसके हुलिया की कल्पना करनी पड़ी थी.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>