रोजगार सृजन का एक मात्र तरीका कौशल विकास : राष्ट्रपति

Apr 02, 2017
रोजगार सृजन का एक मात्र तरीका कौशल विकास : राष्ट्रपति

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने रविवार को यहां बेरोजगारी से निपटने के लिए युवाओं में कौशल विकास के महत्व पर जोर दिया और कहा कि युवा श्रमशक्ति को प्रशिक्षित करना उनके लिए रोजगार सुनिश्चित करने का एक मात्र तरीका है।

मुखर्जी ने यहां कौशल विकास पर एक प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए कहा कि बेरोजगारी देश की बुनियादी समस्या है, जबकि यहां विशाल श्रमशक्ति मौजूद है, और दो-तिहाई आबादी कामकाजी उम्र की है।

प्रणब ने कहा, “युवाओं को प्रशिक्षण देना और उनमें कौशल विकास करना उनके लिए रोजगार सुनिश्चित करने का एक मात्र उपाय है।”

मुखर्जी ने राज्यभर में कई परियोजनाओं का शुभारंभ भी किया, जिसमें देवघर के जसीडीह में एक सॉफ्टवेयर टेक्न ॉलॉजी पार्क्‍स ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) केंद्र की आधारशिला रखा जाना भी शामिल है।

एसटीपीआई सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग की जरूरतें पूरी करेगा और झारखंड से आईटी निर्यात व उद्यमिता को बढ़ावा देगा।

इस मौके पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए प्रणब ने कहा कि लोगों को कुशल बनाने और उन्हें लाभ पहुंचाने के लिए कई परियोजनाएं शुरू की गई हैं।

मुखर्जी ने कहा, “..यह केंद्र नायकों की इस भूमि पर रोजगार का दायरा बढ़ाएगा।”

इस अवसर पर झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, केंद्रीय कौशल विकास एवं उद्यमिता राज्य मंत्री राजीव प्रताप रूडी, श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री बंडारू दत्तात्रेय, कानून एवं न्याय राज्य मंत्री पी.पी. चौधरी भी उपस्थित थे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>