सिख और दलितों ने किया मुस्लिमो का समर्थन, दंगा भड़काने आये शिव सैनिको को दौड़ा – दौड़ा कर पीटा

Jul 25, 2016

यह अक्सर देखा गया है की जब जब चुनाव का वक्त होता है तब तब वोटो को एक तरफ करने के लिए आर एस एस / बी जे पी एक साम्प्रद्यिकता का माहोल रचते है जिस कारण वोट एक तरफ हो जाए और हिन्दू नाम पर इनको वोट मिले . यानी नफरत और दंगे इनके हथियार है

यही हाल आजकल पुरे देश में चल रहा है क्योकि देश में चुनाव का माहोल है वो भी ऐसे दो राज्यों में जो देश की पूरी राजनीती को दिशा निर्देशित कर देते है

इसी तरह के एक प्रयास में शिव सैनिक ने पंजाब के पघवर शहर में किया
जब शिव सेना के कार्यकर्ताओं के मध्य हुई इस सम्प्रदियक हिंसा में दो पुलिसकर्मी सहित सात लोग घायल हो गए. गौरतलब करने वाली बात यह रही कि शिव सेना और मुस्लिम समुदाय के मध्य हुई इस हिंसा में सिख्खो और दलितों ने मुसलमानो का साथ दिया.

ये भी पढ़ें :-  अगर मेरे पति दिमागी बीमार हैं तो सीमा पर बीएसएफ ने हथियार क्यों दिया है

दरअसल बुधवार को राइट-विंग के नेताओं कश्मीर में चल रही हिंसा के लिए अमरनाथ यात्रा व्यवधान के खिलाफ एक विरोध प्रदर्शन किया और मुस्लिम समुदाय के लोगो की दुकान को जबरन बंद करने की मांग की. जिसके बाद
अल्पसंख्यक समुदाय के लोगो ने इसके खिलाफ शुक्रवार को जुमा नमाज़ अदा करने के बाद राज्य के प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपने और मामले की जानकारी देने की बात कही. और साथ ही इस घटना के खिलाफ करवाई की मांग की.

बताया जा रहा है कि शुक्रवार को नमाज़ के बाद शिव सेना के कार्यकर्त्ता मस्जिद के बाहर इखट्टा हो गए. और दंगा भड़काने के लिए उन्होंने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लागए. मामले को बढ़ता देख सिख समुदाय और दलित समुदाय के कुछ लोगो हथियारों से लैस मुस्लिम समुदाय के लोगो के समर्थन में खड़े हो गए.
यह देश शिव सैनिक भाग खड़े हुए

ये भी पढ़ें :-  युवक को भीड़ ने नंगा करके खंभे से बांध कर, लोहे और राड से बुरी तरह से पीटा

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected