राहुल गांधी और सिद्धू मिलकर पंजाब में भाजपा और आम आदमी पार्टी का करेंगे बेड़ा गर्क !

Oct 06, 2016
राहुल गांधी और सिद्धू मिलकर पंजाब में भाजपा और आम आदमी पार्टी का करेंगे बेड़ा गर्क !
नाराजगी के कारण भाजपा की राज्यसभा सांसदी से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात कर पंजाब की राजनीति गरमा दी है।  इस बीच राहुल की ओर से पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह को दिल्ली बुलाने पर कहा जा रहा है कि  सिद्धू का आवाज-ए-पंजाब मोर्चा  कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की तैयारी में है। कैप्टन को सात अक्टूबर तक दिल्ली में दस जनपथ के संपर्क में रहने को कहा गया है।  यही वजह है कि कैप्टन ने सात अक्टूबर को अमृतसर का चुनावी दौरा टाल दिया है। अब वे 10 अक्टूबर के बाद ही पंजाब में कोई चुनावी कार्यक्रम करेंगे। कांग्रेस का मानना है कि सिद्धू की अमृतसर से सटी करीब 40 सीटों पर मजबूत पकड़ है। इस नाते सिद्धू भाजपा और आप पर अकेले भारी पड़ सकते हैं। यही वजह है कि राहुल उनसे हाथ मिलाने को उत्सुक हैं।
सिद्धू जल्द कर सकते हैं चौकाने वाली घोषणा
कहा जा रहा है कि राहुल गांधी और सिद्धू के बीच पंजाब चुनाव को लेकर लंबी बातचीत हुई। सिद्धू ने राहुल से मुलाकात के दौरान पंजाब को लेकर अपनी कुछ शर्तें रखी हैं। इन शर्तों पर राहुल ने सात अक्टूबर तक विचार करने को कहा है। कहा जा रहा है कि अगर राहुल गांधी ने सकारात्मक जवाब दिया तो सिद्धू कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की घोषणा कर सबको चौंका सकते हैं।
पीके ने कराई  राहुल और सिद्धू के बीच मीटिंग
कांग्रेस का चुनावी प्रबंधन संभाल रहे प्रशांत किशोर और अजहरुद्दीन ने सिद्धू से अपनी नजदीकियों को भुनाते हुए उनकी राहुल गांधी से मीटिंग कराई। ऐसा कांग्रेसी धडे में चर्चा है। दरअसल पंजाब में भी प्रशांत किशोर कांग्रेस के लिए काम देख रहे हैं। न केवल वे सोशल मीडिया कैंपेनिंग को धार दे रहे बल्कि क्षेत्रीय क्षत्रपों को भी कांग्रेस के पाले में खड़ा करने में लगे हैं। ताकि अगर पंजाब चुनाव में कांग्रेस को सफलता मिलते तो ठीक उसी तरह पीके कंपनी श्रेय झटक सके जिस तरह बिहार में महागठबंधन की जीत का श्रेय लूटने में पीके कंपनी कामयाब रही। सिद्धू को कांग्रेस से जोड़ने के लिए पीके कंपनी की यह कसरत इसी रणनीति का नतीजा है। उधर इस पूरे मसले पर
कांग्रेस नेता चरनजीत सिंह चन्नी कहते हैं कि राहुल और सिद्धू के बीच बातचीत जरूर चल रही है, मगर क्या चल रही है, इसकी जानकारी नहीं है। वहीं प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि पूरा मामला प्रशांत किशोर डील कर रहे हैं। आवाज-ए-पंजाब के साथ कांग्रेस के गठबंधन पर वह कुछ नहीं बोल सकते।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
ये भी पढ़ें :-  कुछ लोगों के कारण गंदी हो रहीं नदियां : बाबा रामदेव
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected