फिर से भड़क सकता है शिया-सुन्नी विवाद, सऊदी ने ईरानियों की हज यात्रा पर लगाया बैन

Sep 08, 2016
फिर से भड़क सकता है शिया-सुन्नी विवाद, सऊदी ने ईरानियों की हज यात्रा पर लगाया बैन

लगभग सातवी सदी से चला आ रहा शिया-सुन्नी संघर्ष , इर्रानी नागरिको के लिए मुसीबत लेकर आया है. सऊदी अरब प्रशासन ने ईरानी नागरिको की हज यात्रा पर बैन लगा दिया है. सऊदी अरब का कहना है की चूँकि ईरानी नागरिक मुस्लिम नही है इसलिए उनकी हज यात्रा का भी कोई मतलब नहीं है. सऊदी अरब के इस कदम का विरोध करते हुए ईरान ने हज यात्रा पर सऊदी की प्रभुत्ता को चुनौती देने की मांग की है

सऊदी अरब के धार्मिक नेता शेख अब्दुल-अजीज इब्न अब्दुल्ला ने ईरान पर हमला करते हुए कहा की ईरान के लोग मूलतः पारसी है जो हमेशा से मुस्लिमो के दुश्मन रहे है. इसलिए ईरान के लोग मुस्लिम है ही नही. शेख अब्दुल्ला के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ईरानी नेता अयातुल्ला खेमनी ने हज यात्रा पर सऊदी की प्रभुत्ता पर सवाल उठाते हुए कहा की पूरे मुस्लिम समाज को इस पर सोचना चाहिए

ये भी पढ़ें :-  पाकिस्तान- नाबालिग हिंदू लड़की का कथित तौर पर अपहरण और फिर उसके..

अयातुल्ला खेमनी ने सऊदी अरब पर मक्का मदीना को लेकर राजनीती करने का आरोप लगाया. अयातुल्ला ने कहा की दुनिया के इस्लाम को हज यात्रियों के सबसे पवित्र स्थल के मैनेजमेंट के बारे में फिर से विचार करने की जरुरत है. मक्का में भगदड़ की वजह से मरने वाले हज यात्रियों की मौत पर सवाल उठाते हुए अयातुल्ला ने कहा की कुछ यात्रियों की मौत भगदड़ की वजह से नही होती बल्कि उनका मर्डर किया जाता है

गौरतलब है की सऊदी अरब की 90 फीसदी आबादी सुन्नी है जबकि ईरान की 95 फीसदी आबादी शिया है. दोनों देशो के बीच सदियों से दुश्मनी चली आ रही है. शियाओ की साथ अपनी दुश्मनी निभाते हुए सऊदी ने यहाँ के बड़े शिया नेता निम्र-बक्र अल निम्र को फांसी पर लटका दिया था. इसके बाद ईरान में लोगो ने सऊदी दूतावास को आग लगा दी. अभी हाल ही में सऊदी अरब ने हज यात्रा पर आने वाले ईरानी नागरिको पर प्रतिबंध लगा दिया है

ये भी पढ़ें :-  भारत की आबादी 2024 तक चीन से ज्यादा हो जाएगी : संयुक्त राष्ट्र

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>