अनुभव साझा करने से राज्यों की समस्याओं का समाधान संभव : मोदी

Jul 11, 2017
अनुभव साझा करने से राज्यों की समस्याओं का समाधान संभव : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को राज्यों से आह्वान किया कि वे अपनी समस्याओं व चुनौतियों के समाधान के लिए एक दूसरे के शानदार कार्यो से सीख लें। राष्ट्रीय राजधानी में नीति आयोग द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने कहा कि राज्यों के अनुभवों से बहुत कुछ सीखना है, जो समस्याओं व चुनौतियों का बेहतरीन समाधान प्रदान कर सकता है।

उन्होंने कहा कि चुनौतियों से निपटने के लिए सरकारी अधिकारियों के पास समग्र दृष्टिकोण व क्षमता होती है।

प्रधानमंत्री ने कहा, “इस संबंध में अनुभव साझा करना बेहद अहम है।”

तमाम राज्यों के मुख्य सचिवों को संबोधित करने से पहले प्रधानमंत्री ने एक-एक अधिकारियों को ध्यानपूर्वक सुना। प्रधानमंत्री से हर अधिकारी ने अपने राज्य में किए जा रहे एक सबसे शानदार कार्य का संक्षेप में विवरण दिया।

ये भी पढ़ें :-  BHU में बवाल जारी, 1 हज़ार छात्र-छात्राओं के ख़िलाफ़ केस दर्ज..

नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत ने संवाददाताओं से कहा, “ऐसा पहली बार हुआ है कि प्रधानमंत्री ने इस तरह के कार्यक्रम को संबोधित किया है। उन्होंने प्रत्येक मुख्य सचिव के विचारों को सुनने के लिए ढाई घंटे का वक्त दिया।”

नीति आयोग के बयान के मुताबिक ग्रामीण विकास, कौशल विकास, फसल बीमा, नवजात शिशु मृत्यु दर घटाना, जनजाति कल्याण, ठोस कचरा प्रबंधन, प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण, सौर ऊर्जा तथा व्यापार आसान करने से संबंधित कार्यो के बारे में सम्मेलन पर चर्चा की गई।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>