शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने तीन तलाक के फैसले को कहा, मुस्लिम बोर्ड की नाकामयाबी

Aug 23, 2017
शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने तीन तलाक के फैसले को कहा, मुस्लिम बोर्ड की नाकामयाबी

राजधानी दिल्ली में मौजूद जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने मंगलवार को कहा कि, एक बार में तीन तलाक का मुद्दा उच्चतम न्यायालय पहुंचा क्योंकि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड मुसलमान महिलाओं की समस्याओं का समाधान करने में नाकाम रहा। उन्होंने कहा कि एक बार में तीन तलाक के मामले में बोर्ड का रूख एक जैसा नहीं रहा। अहमद बुखारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘मुस्लिम लॉ बोर्ड ने कदम क्यों नहीं उठाया? इसलिए ये महिलाएं अदालत तक गईं।

मुस्लिम लॉ बोर्ड ने पहले अदालत को बताया कि वह तीन तलाक के चलन से बचने के लिए निकाहनामे में परामर्श जारी करेगा। फिर उसने कहा कि उन लोगों का सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा जो तीन तलाक देते हैं।’’ आपको बता दें कि सर्वोच्च न्यायालय ने मंगलवार को तीन तलाक पर ऐतिहासिक फैसला ‘असंवैधानिक’ व ‘मनमाना’ करार देते हुए कहा कि यह ‘इस्लाम का हिस्सा नहीं’ है।

ये भी पढ़ें :-  कुछ ही घंटे में एक ही जगह पर दो बार पटरी से उतरी ट्रेन, कोई हताहत नहीं
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>