अलगाववादी नेताओं की अब छिन जाएगी, फ्री विदेश यात्रा, सरकारी सुरक्षा और मुफ्त का इलाज

Sep 08, 2016
अलगाववादी नेताओं की अब छिन जाएगी, फ्री विदेश यात्रा, सरकारी सुरक्षा और मुफ्त का इलाज

कश्मीर मुद्दे के मामले पर बुधवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह एक मीटिंग कर रहे हैं। मीटिंग में सभी 20 पार्टियों के लोग शामिल होंगे। जो पिछले सप्ताह गृह मंत्री के साथ कश्मीर गए थे।

ताकि वहां शान्ति के लिए जो लोकल पार्टी हैं और जो अलगाववादी नेता लोग हैं, उनसे बात की जाती। लेकिन वहां पर एक भी अलगाववादी नेता इनसे बात करने को तैयार नहीं हुए। न ही कोई वहां बातचीत के लिए पहुंचा। और जब लेफ्ट के नेता सीताराम येचुरी और जनता दल यूनाइटेड के शरद यादव उनके घर तक पहुंचे, तो उनलोगों ने अपने घर के दरवाज़े तक नहीं खोले थे। इसके बाद वहां कुछ देश-विरोधी नारेबाज़ी भी की गई। और इन सब को वापस लौटना पड़ा।

ये भी पढ़ें :-  सपा-कांग्रेस के बीच गठबंधन तय, शीला दीक्षित लेंगी CM दावेदारी से नाम वापस

इसके बाद जो सभी नेता लोग कश्मीर गए थे। सब लौट के दिल्ली आ गए। करीब 20 पार्टियों के 26 नेता लोग वहां पहुंचे थे। अब मंगलवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह, प्रधानमंत्री से मिले। पार्टी के और दूसरे सीनियर नेताओं से मिले। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से भी मिले। और कश्मीर में जो कुछ भी हुआ उसके बारे में बताया गया। इसके बाद आज मीटिंग हो रही है।

मीटिंग का मुद्दा क्लियर है कि कश्मीर में जो हालत बिगड़े हुए हैं। उनको ठीक करना है। कैसे ठीक करना है इसके लिए पूरा प्लान तैयार करना है। और जो अलगाववादी नेता लोग हैं। जिसमें सैय्यद अली साहब गिलानी, मिर्वाइज उमर फारुख़ और यासीन मलिक जैसे लोगों पर नकेल कसने पर भी चर्चा होगी। और वहां जो गवर्नमेंट फैसिलिटी हैं वो सब सही ढंग से पहुंच भी रही हैं या नहीं। इसके लिए एक एडमिनिस्ट्रेटिव टीम भी तैयार की जाएगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली और सभी 26 नेता जो कश्मीर गए थे इस मीटिंग में जाएंगे।

ये भी पढ़ें :-  साइकिल चिह्न अखिलेश को दिए जाने पर सुप्रीम कोर्ट जाएंगे शिवपाल

एक मिनट थोड़ा ठंढा पानी पी के आगे पढ़िएगा। काहे कि इन जैसे लोग जो केंद्र के नेताओं से मिलना भी नहीं चाहते। उनको क्या-क्या सुविधा मिलती है। और आपके टैक्स का पैसा कहां-कहां जा रहा है। जेएनयू के नाम पर आप जितना हव्वा मचाये थे। सब बंद हो जाएगा।

लेकिन अब ये इनकी जो घर बैठे रईसी चल रही थी वो अब खत्म होने वाली है। आज जो मीटिंग हो रही है उसमें इनको जो भी फैसिलिटी मिलती है उसको काटने पर बातचीत होगी। उसके बाद इनके जो बैंक अकाउंट हैं उनकी भी अलग से जांच होगी।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

ये भी पढ़ें :-  कोर्ट ने कहा-नोटबंदी का नहीं चलेगा बहाना, देना पड़ेगा पैसा
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected