मस्जिद में मौलाना के साथ नाबालिग लड़की को देख, दो समुदाय आपस में भीड़े

May 03, 2017
मस्जिद में मौलाना के साथ नाबालिग लड़की को देख, दो समुदाय आपस में भीड़े

मेरठ में पूर्व विधायक लक्ष्मीकांत वाजपेयी के पुत्र विवेक वाजपेयी ने बुढ़ाना गेट के पास स्कूली छात्रा को कमरे में बंद करने का आरोप लगते हुये लोगों ने एक मौलाना को पकड़कर जमकर हंगामा काटा। सूचना पर पहुँची पुलिस मौलाना और छात्रा को कोतवाली ले गई। इस बीच किसी ने मोहल्ले में मौलाना की पिटाई की झूठी खबर फैला दी। इस पर मुस्लिम समाज के सैकड़ों लोगों ने कोतवाली को घेर लिया और पुलिस से नोक झोक शुरू हो गयी। कुछ देर के बाद पूर्व विधायक के पुत्र कुछ लोगो के साथ कोतवाली पहुंचे। जहां दोनों समुदाय के लोगों के बीच तनातनी हुई। इस पर सांप्रदायिक तनाव हो गया। सीओ समेत दो थानों की पुलिस ने लाठियां भांजकर भीड़ को खदेड़ा।

पूर्व विधायक लक्ष्मीकांत वाजपेयी के पुत्र विवेक वाजपेयी ने कहा कि सोमवार दोपहर में 13 साल की छात्रा स्कूल ड्रेस में उनके मोहल्ले के एक धर्म स्थल के अंदर गई। जहाँ मौलाना ने छात्रा को एक कमरे के अंदर बंद कर रखा था। लोगो ने वहाँ जाकर देखा। लोगों ने कमरा खुलवाकर छात्रा को बाहर निकाला उसके बाद मौलाना सफाई देने लगा, लेकिन लोगों ने मौलाना पर गंभीर आरोप लगाते हुए वहाँ हंगामा करना शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस छात्रा और मौलाना को कोतवाली ले गई। खबर फैलते ही मुस्लिम समाज के सैकड़ों लोगों ने कोतवाली पर जाकर जमकर हंगामा किया। कुछ देर के बाद पूर्व विधायक के पुत्र कुछ लोगो के साथ कोतवाली पहुंचे। सीओ कोतवाली रणविजय सिंह ने हंगामा कर रहे दोनों पक्ष के लोगों को कोतवाली से हटाया। इसके बाद भी कुछ लोग थाना परिसर में ही खडे़ रहे। जिन्हें लाठियां भांजकर भगाया गया। वही एसओ कोतवाली विजय गुप्ता का कहना है कि छात्रा ने मौलाना पर कोई आरोप नहीं लगाया है। मौलाना के ऊपर किसी भी प्रकार की आरोप की पुष्टि नहीं हुई है। छात्रा के परिजनों को बुलाकर उसे सौंप दिया गया। मौलाना को भी समझा कर भेज दिया गया।

वही इस मामले में मुस्लिम समाज के लोगों का कहना था कि छात्रा ने मौलाना पर कोई आरोप नहीं लगाया है। बेवजह इसे तूल दिया जा रहा है। कुछ लोग मोहल्ले से उनके धर्म स्थल को हटवाना चाहते हैं। इसी वजह से झूठे आरोप लगाकर हमेशा बखेड़ा खड़ा करते हैं।

लोगो के कोतवाली से नहीं जाने पर सीओ रणविजय सिंह ने चेताया कि किसी कीमत पर माहौल खराब नहीं होने दिया जाएगा।पुलिस जांच के बाद अपना काम करेगी। सीओ कोतवाली रणविजय सिंह ने बताया कि मौलाना पहले लिसाड़ी गेट क्षेत्र में पढ़ाता था। वहीं पर ये छात्रा भी पढ़ती थी, इसलिए दोनों एक दूसरे को जानते थे। जो की मौलाना अब बुढ़ाना गेट क्षेत्र में पढ़ा रहा है इसी वजह से छात्रा धर्म स्थल देखने गई थी। छात्रा ने कोई आरोप नहीं लगाया। इस मामले में कोई केस नहीं दर्ज हुआ।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>