पेट्रोल-डीजल में मिलावट पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र से मांगा जवाब

Aug 26, 2016
पेट्रोल-डीजल में मिलावट पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र से मांगा जवाब

नई दिल्ली। और में मिलावट को लेकर ने गंभीर चिंता जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मुद्दे पर केंद्र सरकार से जल्द कार्रवाई की बात कही है।

सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने सॉलिसीटर जनरल के माध्यम से एक हलफनामा मांगा है, जिसमें इस बात का जिक्र हो कि आखिर पेट्रोलियम मंत्रालय पेट्रोल-डीजल में मिलावट को रोकने के लिए क्या कदम उठा रही है?

देश की सर्वोच्च अदालत ने कहा कि देश में पेट्रोल-डीजल में मिलावट के मामले लगातार बढ़ रहे हैं ऐसे में सरकार को इसे रोकने के लिए 6 हफ्ते के लिए जरूरी दिशा-निर्देश तय करने होंगे।

SC says petrol & diesel in rural & urban areas are highly adulterated and asks Govt to specify measures in 6 weeks to stop this.

— ANI (@ANI_news)

पेट्रोल में मिलावट पर फंसे यूपी के विधायक

अदालत ने सरकार से पूछा है कि क्या पेट्रोल और डीजल वेंडिंग मशीन में मिलावट को रोकने के लिए इसे और ज्यादा संवेदनशील बनाया जा सकता है।

SC asks Centre whether petrol and diesel vending machines could be made adulteration sensitive to stop dispensing adulterated fuel.

— ANI (@ANI_news)

सुप्रीम कोर्ट ने इसी के साथ उत्तर प्रदेश से विधायक देवेंद्र अग्रवाल के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं। उन पर पेट्रोल में केरोसिन मिलाकर बेचने का आरोप लगा था।

SC also orders inquiry against Sadabad (UP) MLA Devendra Agrawal who allegedly mixes kerosene with petrol.

— ANI (@ANI_news)

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>