सहारनपुर: यूपी वाला हूं, काम का हिसाब देने आया हूं: PM मोदी

May 27, 2016

सरकार के दो साल के कार्यकाल पूरे होने पर उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मैं जनता को अपने देश को कामकाज का हिसाब देने आया हूं.

पीएम मोदी ने संबोधन की शुरुआत ‘भारत माता की जय’ से की. रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, मैं उत्तर प्रदेश वाला हूं. यहां का सांसद हूं . मेरा मन करता आपका आशीर्वाद प्राप्त करने का. मैं जो जन सैलाब देख रहा हूं आपसे क्षमा चाहता हूं कि जगह कम पड़ गयी.

उन्होंने इस दौरान अपने शपथ ग्रहण को भी याद किया. लोगों को धन्यवाद देते हुए उन्होंने कहा कि मैं इसी वक्त दो साल पहले शपथ ले रहा था, आज इसी वक्त अपने काम का हिसाब देने आया हूं.

उन्होंने कहा कि दो वर्ष में देश ने हमारे काम को देखा है.  संसद में जब सांसदों ने मुझे नेता के रूप में चुना था तो मैंने अपने पहले भाषण में  कहा था मेरी सरकार गरीबों के प्रति समर्पित है.  कोई गरीब मां – बाप नहीं चाहता कि उसे विरासत में गरीबी मिले. हर मां – बाप चाहता है कि उनके जैसे गरीबी उनके बेटों को न मिले.

प्रधानमंत्री ने विरोधियों पर हमला करते हुए कहा कि देश बदल रहा है लेकिन लोगों का दिमाग नहीं बदल रहा है. जिस वक्त मैंने जिम्मेदारी संभाली उस वक्त 14 हजार करोड़ रुपये गन्ना किसानों का बकाया था. हमने पुरानी भुगतान का काम अलग अलग योजनाओं के जरिये कराया. मैं शुगर मिल को चेतावनी देता हूं कि इतने साल आपने जो किसानों के साथ किया है अब आपको करने नहीं दिया जायेगा.

प्रधानमंत्री ने राज्यों की चर्चा करते हुए कहा कि हमारी कोशिश रही है कि राज्यों को मजबूत बनायें. राज्य सरकारें भी जनता के लिए काम करें. पहले एक जमाना था जब दिल्ली सरकार के पास भारत का 65 प्रतिशत धन उनके पास होता था. राज्यों के खजाने में सिर्फ 35 प्रतिशत होता था. हमने सबसे बड़ा निर्णय किया. अब दिल्ली के खजाने में सिर्फ 35 प्रतिशत हिस्सा रहेगा और 65 प्रतिशत राज्यों के खजाने में रहेगा. इस निर्णय से राज्यों को ताकत मिली.

उन्होंने कहा कि हमने सीधे तौर पर नगर निगम और ग्राम पंचायत को धन उपलब्ध कराया ताकि अच्छी बिजली, अच्छी सड़क और अच्छा स्कूल बन सके. हमारी कोशिश थी कि इन कोशिशों से बदलाव आये.

मोदी ने कहा कि हमने लक्ष्य रखा है कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी हो जाए. यह नारा नहीं है हमारी कोशिश है कि यह पूरा हो. हमें वैज्ञानिक तरीके से खेती करनी होगी. मिट्टी की जांच से यह पता चलेगा कि कौन सी फसल लगाये कि उसे फायदा हो. हमने प्रधानमंत्री कृषि सिचांई योजना के तहत कोशिश है कि उसे पानी मिलें. हमें पता है कि अगर किसानों को पानी मिले तो वो मिट्टी से भी सोना निकाल सकते हैं. जिन राज्यों में पानी का संकट है उनके मुख्यमंत्री से बात की और पानी का संकट दूर करें.

प्रधानमंत्री ने कहा क्या उस वक्त कोई गरीब गैस सलेंडर से खाने बनाने की सोच सकता था. मेरा देश इतना ताकतवर और ईमानदार हैं कि मैंने देशवासियों को कहा कि अगर आप अपनी सब्सिडी छोड़ दें. इस देश के 1 करोड़ से ज्यादा परिवार ने रसोईगैस की सब्सिडी छोड़ दी. मैंने फैसला लिया कि आने वाले तीन साल में  5 करोड़ परिवार को गैस कनेक्शन दिया जायेगा.

मोदी सरकार अपने दो साल के कामकाज का ब्यौरा के साथ-साथ मिशन उत्तर प्रदेश 2017 पर भी पैनी नजर रखे हुए हैं. पीएम मोदी की इस रैली को उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के नजरिए से भी बेहद अहम माना जा रहा है.

मंच पर पीएम मोदी के साथ उत्तर प्रदेश में भाजपा का चेहरा और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे. रैली में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे हैं. राजनाथ सिंह ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को जीत दिलाने में उत्तर प्रदेश ने बड़ी भूमिका निभाई थी.

दो साल पहले 26 मई 2014 को नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण की थी.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>