मायावती के EVM मुद्दों पर साध्वी प्राची के विवादित बोल कहा, उनका दिमाग खराब हो चूका है, उन्हें पागलखाने भेज दो

Mar 21, 2017
मायावती के EVM मुद्दों पर साध्वी प्राची के विवादित बोल कहा, उनका दिमाग खराब हो चूका है, उन्हें पागलखाने भेज दो

योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के बाद बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि भाजपा ने क्षत्रिय समाज के योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बना दिया जबकि इस बार चुनाव में उन्होंने पिछड़ी जाति से आने वाले भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को आगे कर किसी न किसी रूप में उन्हें मुख्यमंत्री बनाने का आश्वासन देकर ओबीसी वोट बटोरा। इसके अलावा मायावती ने एक बार फिर EVM मशीन पर सवाल खड़े किये।

योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मायावती ने कहा की बीजेपी और आरएसएस पिछड़ो को पसंद नही करती। यही वजह है की उन्होंने केशव प्रसाद मौर्य को मुख्यमंत्री नही बनाया। प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के रूप में आदित्यनाथ योगी और उनके सहयोगियों के शपथ लेने के तुरंत बाद मायावती ने कहा कि वर्तमान में भाजपा ने अपने RSS (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) के एजेंडे पर चलकर खासकर उत्तर प्रदेश में ओबीसी अन्य पिछड़ा वर्ग और ब्राहमणों के साथ विश्वासघात किया है।

ये भी पढ़ें :-  नौकरी के बहाने दिल्ली ले गया प्रेमी, अश्लील फोटो खींच दी धमकी, कहा-'तू किसी और की हुई तो सब मरेंगे'

मायावती ने बीजेपी पर RSS के एजेंडा पर काम करने का आरोप लगाते हुए कहा की बाबरी मस्जिद गिरवाने की वजह से RSS ने कल्याण सिंह को मुख्यमंत्री बनाया था। एक बार फिर उसी एजेंडे को पूरा करने के लिए योगी को मुख्यमंत्री बनाया गया। मायावती के बयान पर साध्वी प्राची ने प्रतिक्रिया दी है। उत्तर प्रदेश के अयोध्या पहुंची साध्वी प्राची ने मायावती को पागल करार दिया। साध्वी प्राची ने मायवती पर जातिवादी राजनितिक करने का आरोप लगाया। मायवती को तो पागलखाने भेज देना चाहिए। अयोध्या आने के सवाल पर उन्होंने कहा की मैंने मन्नत मांगी थी की केंद्र में मोदी और यूपी में योगी की सरकार बनने पर मैं रामलला के दर्शन करने आउंगी।

ये भी पढ़ें :-  सूरत में BJP पार्षद और उसके भतीजों की गुंडागर्दी, महिला को निर्वस्त्र करके पीटा
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>