रोहिंग्या मुसलमानो पर हो रहे जुल्म के बीच आगे आये मुस्लिम देश

Dec 20, 2016
रोहिंग्या मुसलमानो पर हो रहे जुल्म के बीच आगे आये मुस्लिम देश

मलेशिया के शीर्ष राजनयिक ने सोमवार को म्यांमार में आपात वार्ता में आंग सान सू की पर शिकंजा कसा। चेतावनी दी की रोहिंग्या मुसलमानो पर एक सेना के खिलाफ कार्रवाई के लिए क्षेत्रीय प्रवासी संकट बढ़ सकता है। 27,000 से अधिक रोहिंग्या मुसलमान नवंबर के शुरू होने से एक सैन्य आतंकवाद विरोधी आपरेशन से बचने के लिए म्यांमार के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में भाग गए है। दक्षिण पूर्व एशिया के आसपास विरोध प्रदर्शन जारी है। लेकिन रोहिंग्या जो जिन्दा बचे है सैनिकों के हाथों से बलात्कार, हत्या और आगजनी का वर्णन किया है। सोमवार को आसियान विदेश मंत्रियों संकट पर यांगून में बातचीत की। जब भूख से मर रहे रोहिंग्या के हजारों तस्कर द्वारा समुद्र में छोड़ दिया गया, क्योंकि वे मलेशिया के लिए दक्षिण की ओर भागने की कोशिश कर रहे थे। हम मानते हैं कि स्थिति एक क्षेत्रीय चिंता का विषय है और अब एक साथ हल किया जाना चाहिए।

उन्होंने बैठक में कहा, क्वालालम्पुर में से एक बयान के अनुसार। म्यांमार इस समस्या के मूल कारणों का पता करने की कोशिश में और अधिक प्रयास करना चाहिए। सोमवार की बैठक के बाद एक बयान में सू की ने कहा कि वार्ता थे “स्पष्ट और पारदर्शी” बल्कि “आसियान एकता को मजबूत बनाने और आसियान के परिवार के सदस्यों के बीच मतभेदों को हल करने के महत्व पर बल दिया।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>