क्यों ओलंपिक इंडियन हॉकी टीम के कैैप्टन सरदार सिंह नहीं?

Jul 12, 2016

नई दिल्ली। अगले महीने के 5 तारीख से शुरू होने वाले रियो ओलंपिक में जाने वाली इंडियन हॉकी टीमों का ऐलान कर दिया गया है जिसमें सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि पुरूष हॉकी टीम की कप्तानी की सीट पर सरदार सिंह नहीं बल्कि पीआर श्रीजेश बैठे हैं, जिनकी अगुवाई में भारत ने चैम्पियंस ट्रॉफी में सिल्वर मेडल जीता था लेकिन तब सरदार सिंह को आराम दिया गया था।

लेकिन आज जब टीम का ऐलान हुआ था तो सरदार सिंह का नाम बतौर कप्तान नहीं बल्कि बतौर खिलाड़ी लिया गया। आपको बता दें कि टीम हॉकी के स्टार कहे जाने वाले सरदार सिंह 27 जून, 2016 को शुरू हुए 6 देशों के हॉकी टूर्नामेंट के लिए कैप्टन बनाये गये थे लेकिन उन्हें ओलंपिक वाली टीम में कप्तान नहीं बनाया गया, ये चौंकाने वाला है।

ये भी पढ़ें :-  महिला गोल्फ : चौथे चरण के पहले दिन सानिया को बढ़त

गोलकीपर पीआर श्रीजेश को मिली कप्तानी

कहा जा रहा है कि इसके पीछे दो कारण हो सकते है, पहला ये कि पीआर श्रीजेश की कप्तानी में टीम ने बढ़िया प्रदर्शन किया है इसलिए हॉकी एसो को लगा कि वो टीम को ओलंपिक में आगे तक ले जा सकते हैं और दूसरा और अहम कारण सरदार सिंह से जुड़ा यौन-शौषण का विवाद भी हो सकता है जिसमें उन्हें क्लीन चिट तो मिल गई है लेकिन महिला आयोग उनका पीछा नहीं छोड़ रही है।

ब्रिटीश मूल की हॉकी खिलाड़ी ने सरदार सिंह पर लगाया यौन-शौषण का आरोप

आपको बता दें कि ब्रिटीश मूल की हॉकी खिलाड़ी ने सरदार सिंह पर यौन-शौषण का आरोप लगाया है। महिला ने कहा है कि सरदार सिंह से वो प्रेम करती थी लेकिन सरदार सिंह ने उसका शारीरिक शोषण किया और शादी से इंकार कर दिया। यहां तक कि उसने कहा कि वो सरदार सिंह के बच्चे की मां भी बनने वाली थी लेकिन सरदार सिंह ने उसका जबरदस्ती अबार्शन करवा दिया। इस मामले में सरदार सिंह ने खुद को बेकसूर बताया है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected