कश्मीर में अशांति के लिए लश्कर जिम्मेदार: NIA

Aug 11, 2016

लश्कर-ए-तय्यबा के कथित पाकिस्तानी आतंकवादी के इकबालिया बयान से लैस एनआईए ने बुधवार को कश्मीर में लगातार अशांति को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तय्यबा को जिम्मेदार ठहराया.

आतंकवाद रोधी जांच एजेंसी ने यह भी कहा कि वह पिछले 33 दिनों से घाटी में चल रही अशांति में पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तय्यबा की भूमिका के संबंध में साक्ष्य एकत्र कर रही है. राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि पाकिस्तानी आतंकवादी बहादुर अली से पूछताछ में घाटी में हालात बिगाड़ने में लश्कर-ए-तय्यबा की संलिप्तता को दर्शाने के लिए सुराग मिले हैं.

अली को उत्तर कश्मीर से हाल ही में गिरफ्तार किया गया था.  एनआईए की टिप्पणी एक दिन बाद आई है जब भारत ने पाकिस्तान को भारत में लगातार सीमा पार आतंकवाद का समर्थन देने के लिए सख्त डिमाश्रे जारी किया था.

ये भी पढ़ें :-  फिर डिंपल यादव को देखने के लिए टूटा भीड़ का सब्र

 

एनआईए के महानिरीक्षक संजीव सिंह  ने मीडिया को बहादुर अली उर्फ सैफुल्ला का वीडियो दिखाया जो अपने परिवार, आतंकवादी संगठन में जो उसने समय बिताया और सीमा के इस पार आने के बारे में बता रहा है. अली ने बताया कि जमात-उद-दावा ने 14 साल की उम्र में उसकी भर्ती की थी और उसके गांव में जिहाद के लिए धन जुटाने का काम सौंपा था. उसकी भर्ती 26 नवंबर के हमले के मुख्य षड्यंत्रकारी के करीबी सहायक ने की थी.

लश्कर-ए-तय्यबा से जुड़े मौलाना अब्दुर्ररहीम ने भारत समेत दुनिया के विभिन्न हिस्सों में हो रहे मुसलमानों पर कथित अत्याचार की फिल्में दिखाकर उसे चरमपंथी बनाया था और युवाओं से वहां इस्लामी शासन स्थापित करने के लिए जिहाद शुरू करने का आह्वान किया.

ये भी पढ़ें :-  जेएनयू के छात्र नजीब अहमद के गायब होने की न्यायिक जांच कराई जाए: एसआईओ

इसमें साल 2013 में मानशेरा में ‘दौरा-ए-तुलबा (15 दिन का बुनियादी प्रशिक्षण), 2014 में मुजफ्फराबाद के निकट अक्सा शिविर में ‘दौरा-ए-आम (21 दिनों का बुनियादी हथियार प्रशिक्षण) और उसके बाद 2016 की गर्मियों में मुजफ्फराबाद के निकट ताबूक शिविर में एक महीने का ‘दौरा-ए-खास’ प्रशिक्षण हासिल किया, जिसके तहत उसे अत्याधुनिक हथियार चलाने का प्रशिक्षण दिया गया. अली ने कहा कि सादी वर्दी में सेना के कुछ अधिकारी उन्हें उनके काम के बारे में बताने और उनकी तैयारी की जांच करने के लिए आए.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected