पाक पुलिस ने कादरी के 7,000 समर्थकों पर दंगा भड़काने का मामला दर्ज किया

Mar 04, 2016

पाकिस्तान में पुलिस ने मुमताज कादरी के 7,000 से अधिक समर्थकों पर दंगा भड़काने के आरोपों में मामला दर्ज किया है.

ये लोग पंजाब के पूर्व गवर्नर सलाम तसीर की हत्या के मामले में दोषी ठहराये गये पुलिस के पूर्व कमांडो कादरी को फांसी दिये जाने का विरोध कर रहे थे.

सोमवार को कादरी की फांसी के बाद करीब 7,000 प्रदर्शनकारियों ने एम ए जिन्ना रोड को अवरूद्ध कर दिया और शहर में अपनी रैली के दौरान सरकारी संस्थानों के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया.

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार सरकार की तरफ से सोल्जर बाजार पुलिस थाने में प्रदर्शनकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी.

सोल्जर बाजार के थाना प्रभारी इरशाद सूमरो ने कहा कि प्रदर्शनकारियों पर पाकिस्तान दंड संहिता की विभिन्न धाराओं और लाउडस्पीकर अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया.

तासीर की सुरक्षा में तैनात कादरी ने विवादास्पद ईशनिंदा कानून की कथित आलोचना के लिए वर्ष 2011 में इस्लामाबाद में उनकी हत्या कर दी थी और उसी वर्ष उसे दोषी ठहराया गया था.

पाकिस्तान के सैन्य शासक जिआ-उल-हक द्वारा वर्ष 1980 में लाये गये ईशनिंदा कानून को तासीर ने ”काला कानून” करार दिया था.

कादरी को दोषी ठहराये जाने के खिलाफ दायर याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया था, जिसके बाद उसे सोमवार सुबह रावलपिंडी जेल में फांसी दे दी गयी.

मंगलवार को कादरी को सुपुर्द-ए-खाक किया गया और उसमें उसके 50,000 समर्थकों ने हिस्सा लिया जबकि अन्य शहरों में भी हजारों लोगों ने उसके समर्थन में जुलूस निकाला.

 

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>