लाल कला मंच नें मुंशी प्रेमचंद की 136वीं जयंती काब्यगोष्ठी के रुप में मनाई

Aug 01, 2016

नई दिल्ली। लाल कला मंच,नई दिल्ली की ओर से मुंशी प्रेमचंद की 136वीं जयंती काब्यगोष्ठी के रुप में मीठापुर चौक पर मनाई गई। कार्यक्रम का आगाज संस्था के सचिव लाल बिहारी लाल के सरस्वती वंदना-ऐसा माँ वर दे, विद्या के संग- संग, सुख समृद्धि से, सबको भर दे से हुई। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ समाजसेवी का. जगदीशचंद्र शर्मा ने किया । इसमें दिल्ली एवं फरीदाबाद के अनेक कवियो एवं साहित्यकारों ने हिस्सा लिया। इनमें ,लाल बिहारी लाल, जय प्रकाश गौतम,शिव प्रभाकर ओझा,आकाश पागल ,के.पी. सिंह कूंवर , सुरेश मिश्र अपराधी, मलखान सैफी,भगत सिंह,नानक चंद,गिरीगाज शर्मा गिरीश,इसरार अहमद अजीम,ब्रजेश शर्मा, बुदेली का महान बयोवृद्ध कवि ऱाधे श्याम गुप्ता उर्फ विकल जी शहजाद अहमद,असलम जावेद आदी कवियो ने भाग लिया। असलम जावेद ने कहा- मुझे ख्वाब दौलत के आने लगे हैं,बच्चे जब से कमाने लगे है। लाल बिहारी लाल ने कहा की प्रेम चंद सरल तथा आम आदमी की भाषा में लिखा करते थे। आज भी उनकी रचनायें समाजिक परिवेश में प्रासांगिक है। इनकी रचनाये ,युग- युगों तक याद की जायेगी।तथा एक दोहा में कहा कि-रचा सब जन जन खातिर,अमर हो गया नाम।ग्य पघ्य साहित्य में खूब किया है काम।।
इस अवसर पर क्षेत्र के कई गन्यमान्य भी मौयूद थे उनमें-लाल चंद्र प्रसाद, लोकनाथ शुक्ला, महेश बछराज, ललित शर्मा,,अशोक कुमार, रमेश गिरी,कृपाशंकर,रविशंकर,दा. के..के.तिवारी आदी सहित दर्जनों लोगों ने कवियों के कविताओं का आनंद उठाया।, अंत में संस्था के अध्यक्ष सोनू गुप्ता ने सभी कवियों एवं आगन्तुकों को हार्दिक धन्यवाद दिया। (लाल बिहारी लाल)

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>