रविशंकर खुद भले ही न पाए, मगर कोलंबिया के राष्ट्रपति को दिला दिया नोबेल पुरस्कार

Oct 08, 2016
रविशंकर खुद भले ही न पाए, मगर कोलंबिया के राष्ट्रपति को दिला दिया नोबेल पुरस्कार
बेंगलुरु। कोलंबिया के राष्ट्रपति ह्वान मानवल सांतोंस को इस साल शांति के नोबेल पुरस्कार से नवाजा गया है। लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि कोलंबियाई राष्ट्रपति को शांति का नोबेल दिलाने के पीछे आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर का भी अहम रोल रहा था।
दरअसल, सांतोस ने रिवॉल्यूशनरी आर्म्ड फोर्सेज ऑफ कोलंबिया के साथ शांति समझौते पर हस्ताक्षर करके 52 साल पुराना सिविल वॉर खत्म कर दिया था। इसके बाद 26 सितंबर को सांतोस और फार्क ने श्री श्री रविशंकर को सेरिमनी में आमंत्रित किया था।
रविशंकर ने कराई थी फार्क नेताओं और 12 परिवारों की मीटिंग
गौरतलब है कि सितंबर में श्री श्री रविशंकर ने उन 12 पीड़ित परिवारों के साथ फार्क नेताओं की मीटिंग कराई थी, जिनके पारिवारिक सदस्यों को फार्क नेताओं ने अपहरण करने के बाद मौत के घाट उतार दिया था। बातचीत सफल रहने पर दोनों पक्षों से हाथ जोड़कर रविशंकर ने शांति की कामना कराई थी। बाद में इस समझौते के बाद रविशंकर ने ट्वीट से दुनिया को जानकारी भी दी थी।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>