राम मंदिर बनाने या न बनाने से प्रधानमंत्री मोदी का कोई लेना देना नहीं : धर्म संसद

May 07, 2016

उत्तर प्रदेश: उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों के चलते अयोध्या के राम मंदिर को लेकर एक बार फिर सियासी पारा चढ़ने के आसार बनते दिखाई पड़ रहे हैं।  अखिल भारतीय संत सम्मेलन और धर्म संसद में अयोध्या में मंदिर बनाने की तारीख पर  फैसला हो गया है जिसके मुताबिक़  इसी साल ८ नवंबर से मंदिर बनाने का काम शुरू कर दिया जाएगा। बीते दिनों राज्यसभा  में बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने भी राम मंदिर का मुद्दा उठाया था जिसमें स्वामी ने केंद्र सरकार को राम मंदिर बनाने पर अपनी राय जाहिर करने को कहा था। धर्म संसद का कहना है कि राम मंदिर बनाने या न बनाने से  प्रधानमंत्री मोदी का कोई लेना देना नहीं है। मंदिर को जनता ही मिलजुल कर बनाएगी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>