रामगोपाल वर्मा अपनी फिल्म वीरप्पन से की वापसी की कोशिश

May 28, 2016

रामगोपाल वर्मा की फिल्म वीरप्पन देश के सबसे बड़े तस्कर और डाकू वीरप्पन की जिंदगी पर आधारित है. रामगोपाल वर्मा ने इस फिल्म से वापसी की कोशिश की है.

वीरप्पन एक ऐसे खौफनाक अपराधी की कहानी है जिसके किस्से 1990 के दशक में अखबारों की सुर्खियों में रहते थे. कर्नाटक और तमिलनाडु के जंगल में रहने वाले चंदन तस्कर वीरप्पन (संदीप भारद्वाज) को 2004 में एसटीएफ ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था.
सरकार को वीरप्पन को मारने में 20 साल लग गए. इस दौरान वीरप्पन ने हजारों जानें ली और चंदन की लकड़ियों के साथ हाथियों के दांत का अवैध व्यापार करता रहा. फिल्म में वीरप्पन का लुक उत्सुकता पैदा करता है.
फिल्म में बेहतरीन सिनेमेटोग्राफी देखने को मिलता है. फर्स्ट हॉफ में फिल्म कहानी जरा इधर-उधर जाती लगती है लेकिन इंटरवल के बाद फिल्म जबरदस्त बन पड़ी है. संदीप भारद्वाज ने वीरप्पन की जबरदस्त एक्टिंग की है. वीरप्पन की पत्नी की भूमिका उषा जाधव ने शानदार तरीके से निभाई है.
राम गोपाल वर्मा की इस फिल्म कुछ नयापन है. यह उनकी दूसरी फिल्मों से हटकर है और फिल्म का निर्देशन भी अच्छा है. अंडरवर्ल्ड पर फिल्म बनाने वाले राम गोपाल वर्मा ने वीरप्प्न पर लीक से हटकर एक दमदार फिल्म बनाई है.
 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

ये भी पढ़ें :-  मुन्ना भाई एमबीबीएस में संजय से ज्यादा बेहतर अदाकारी नहीं कर सकते शाहरुख
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>