पुतिन बोले, दुनिया को उत्तर कोरिया से तनाव बढ़ाने से बचना चाहिए

Sep 03, 2016
पुतिन बोले, दुनिया को उत्तर कोरिया से तनाव बढ़ाने से बचना चाहिए

मॉस्को। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दुनियाभर के देशों से अपील की है कि वह उत्तरी कोरिया से तनाव बढ़ाने की जगह सुलह का रास्ता अख्तियार करें।

उत्तर कोरिया से रूस की अपील

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि उत्तर कोरिया से तनाव बढ़ाने की जगह किसी भी मुद्दे को शांति सुलझाने पर विचार करना चाहिए।

रूस के पैसिफिक पोर्ट व्लादिवोस्टक में आयोजित बिजनस फोरम की बैठक में पुतिन ने ये बातें कही। इस मौके पर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति पार्क जेन-हाई और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबे शामिल थे।

पुतिन के मुताबिक, रूस का मानना है कि उत्तर कोरिया को न्यूक्लियर कार्यक्रमों से अलग करने के लिए अंतरराष्ट्रीय वार्ता से जोड़कर समझाने की जरूरत है।

पुतिन ने उत्तर कोरिया से भी संयुक्त राष्ट्र के समझौतों का पालन करने का आग्रह किया है। उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है, उनके खिलाफ लिया गया कोई फैसला तनाव को बढ़ाने का ही काम करेगा।

परमाणु कार्यक्रम को रोकने की गुजारिश

हाल ही रूस समेत कई बड़े देशों ने उत्तरी कोरिया से परमाणु कार्यक्रमों को रोकने का दबाव बनाया था। उन्होंने कहा था कि इसके जरिए प्योंगयांग से सहयोग का रास्ता खुलेगा।

बता दें कि विवाद की शुरूआत उस समय हुई थी जब उत्तरी कोरिया ने जनवरी में चौथा परमाणु परीक्षण किया था। इस दौरान उसने परमाणु मिसाइलों की सीरीज बनाई थी।

इस कदम के दौरान उसने संयुक्त राष्ट्र के नियमों को भी खारिज कर दिया। इस परीक्षण के जरिए उत्तर कोरिया ने अपनी संप्रभुता को दुनिया के सामने पेश करनी कोशिश की थी।

उत्तर कोरिया लगातार बढ़ा रहा परमाणु क्षमता

जून में उत्तर कोरिया ने मोबाइल मुसुडान रॉकेट का परीक्षण किया था। इनमें से एक 1000 किमी. (600 मील) तक जा सकती है, वहीं दूसरी अधिकतम 3000 किमी. (1800 मील) की दूरी पर अपना लक्ष्य भेद सकती है। इसके बाद उत्तर कोरिया ने एक सबमरीन बैलिस्टिक मिसाइल लॉन्च की थी।

फिलहाल रूस में उत्तर कोरिया से अपील की गई कि अगर वह अपने परमाणु कार्यक्रमों को रोककर खुलेपन से आगे बढ़ता है तो अंतरराष्ट्रीय समुदाय उसके साथ हैं और उसका हरसंभव सहयोग करेंगे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>