पीएम और राष्ट्रपति की पार्टी से पांच गुना महंगी दावत देकर फंसे केजरीवाल

Oct 09, 2016
पीएम और राष्ट्रपति की पार्टी से पांच गुना महंगी दावत देकर फंसे केजरीवाल
नई दिल्लीः राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री अगर अपने आवास पर किसी पांच सितारा होटल की कैटरिंग सर्विस की दावत देते हैं तो बमुश्किल से ढाई से तीन हजार रुपये प्लेट का डिनर खर्च आता है। मगर केजरीवाल ने पार्टी की सरकार बनने की वर्षगांठ पर बीते फरवरी में 11 और 12 फरवरी को दो पार्टी देकर फिजूलखर्ची का नया रिकार्ड कायम कर दिया।
आम आदमी पार्टी की राजनीति और 12 हजार रुपये प्लेट का खाना। जी हां यह नया ट्रेंड हैं आम आदमी पार्टी मुखिया केजरीवाल का। बीते 11 और 12 फरवरी को यह महंगी पार्टी हुई केजरीवाल के आवास पर। मौका था दिल्ली में सरकार की वर्षगांठ का। पेज थ्री को भी पीछे छोड़ने वाली इस पार्टी में जुटे थे केजरीवाल के मंत्री, विधायक और करीबी पदाधिकारी। दिल्ली सरकार की ओर से पांच सितारा होटल को भुगतान के दस्तावेजों से हुए इस खुलासे के बाद अब केजरीवाल की आम आदमी की राजनीति के दावे पर सवाल उठने लगे हैं।
ताज पैलेस होटल की थी सर्विस
आम आदमी पार्टी के सिद्धांतों के बिल्कुल विपरीत इस पार्टी के आयोजन में दिल्ली के सबसे महंगे ताज पैलेस होटल की सर्विस ली गई। एक प्लेट डिनर की कीमत करीब 12 हजार रुपये रही। मुख्यमंत्री के घर इतने महंगे आयोजन को देख खुद पार्टी विधायक भी हैरान रहे। जिन्हें अक्सर केजरीवाल पार्टी की बैठकों में आम आदमी की राजनीति करने की नसीहत देते रहे।
प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति की थाली होती है पांच गुना सस्ती
सरकारी सूत्र कहते हैं कि आमतौर पर प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति आवास पर कोई सेरेमनी होती है तो अमूमन 2500 से 3000 रुपये प्लेट डिनर का खर्च बैठता है। दिल्ली के माने-जाने पांच सितारा होटल ला मेरिडियन हों या अशोका। इनके स्तर से 2500-3000 प्रति प्लेट के हिसाब से सरकारी आयोजनों में डिनर सर्विस मुहैया कराई जाती है।
महंगा बिल देख सरकारी संस्था ने होटल से मांगी रियायत
खुलासे के मुताबिक यह महंगी पार्टी Delhi Tourism and Transportation Development Corporation (DTTDC) की ओर से केजरीवाल के आवास पर दी गई थी। जब होटल ताज पैलेस ने डिनर का कुल 11.04 लाख का बिल दिया तो डीटीटीडीसी के अफसर हैरान हो गए। पार्टी आयोजन ज्यादा से ज्यादा 4.5 लाख रुपये में होना था। पार्टी को भी लगा कि इतना मोटा बिल अदा करने पर सवाल उठेगा तो होटल ताज पैलेस से संपर्क कर रियायत मांगी गई। इसके बाद होटल ने 9.9 लाख रुपये का बिल दिया। फिर भी यह बिल खर्च की अधिकृत सीमा से दोगुना रहा। Open पत्रिका ने भी सरकारी दस्तावेजों के हवाले से केजरीवाल की इस दावत पर सवाल उठाए हैं।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>