उच्च सदन के सदस्य प्रवीण राष्ट्रपाल के निधन के कारण, बैठक पूरे दिन के लिए स्थगित

May 12, 2016

राज्यसभा की बैठक गुरुवार को कांग्रेस सदस्य प्रवीण राष्ट्रपाल के निधन के कारण उनके सम्मान में पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई.

गुजरात से उच्च सदन के सदस्य राष्ट्रपाल का गुरुवार तड़के हृदयाघात से निधन हो गया.

सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति हामिद अंसारी ने राष्ट्रपाल के निधन की सूचना दी.

गुजरात के गांधीनगर जिले में वर्ष 1939 को जन्मे राष्ट्रपाल ने अपने करियर की शुरूआत नौकरशाह के तौर पर वर्ष 1969 में आयकर निरीक्षक के पद से की थी और आगे बढ़ते हुए उन्होंने सहायक आयकर आयुक्त के पद पर भी अपनी सेवाएं दीं.

ट्रेड यूनियन से संबद्ध राष्ट्रपाल आयकर कर्मियों तथा केंद्र सरकार के कर्मियों के ट्रेड यूनियन आंदोलन से भी जुड़े रहे.

‘काउंसिल फॉर सोशल जस्टिस एंड फाउंडेशन फॉर दलित लिटरेचर’ के संस्थापक सदस्य राष्ट्रपाल ने दलितों के मानवाधिकारों और वंचित वर्गों और महिलाओं के लिए न्याय की खातिर अथक प्रयास किए. उन्होंने कुछ किताबें भी लिखीं.

राष्ट्रपाल वर्ष 1999 से 2004 तक तेरहवीं लोकसभा के सदस्य रहे. उन्होंने उच्च सदन में अप्रैल 2006 से अप्रैल 2012 तक और फिर अप्रैल 2012 से अपने निधन तक गुजरात का प्रतिनिधित्व किया.

अंसारी ने कहा कि राष्ट्रपाल के निधन से देश ने एक उत्कृष्ट सांसद, एक जाने माने ट्रेड यूनियन नेता और एक समर्पित समाज सेवक को खो दिया है.

इसके बाद सदस्यों ने दिवंगत सदस्य के सम्मान में कुछ पलों का मौन रखा और फिर बैठक पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई.

 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>