PICS: घुटने की भयानक चोट से लड़ कर बनीं फेमस योगा ट्रेनर

Sep 06, 2016
PICS: घुटने की भयानक चोट से लड़ कर बनीं फेमस योगा ट्रेनर

नताशा नोएल एक डांसर और सर्टिफाइड योगा ट्रेनर हैं। वे मुंबई में रहती हैं। उन्होंने सोफिया कॉलेज से पढ़ाई की है। नताशा की फोटोज को सोशल मीडिया में खूब पसंद की जाती है। बता दें कि इंस्टाग्राम पर उनके 38 हजार से ज्यादा फॉलोअर हैं जबकि फेसबुक पर भी उन्हें फॉलो करने वालों की संख्या हजारों में है। अपनी टोंड बॉडी की वजह से वे इस तहर के योग पोज कर लेती हैं। कई लोग उनसे मोटिवेट होते हैं। मुश्किलों से भरा बचपन देखने के बाद नताशा को योग में शांति मिली। अब वे योगिनी हैं, डांसर हैं, लोगों को स्वस्थ रहने के लिए प्रेरित करती हैं और जीवनशैली पर ब्लॉग लिखती है। नताशा की जिंदगी बेहद मुश्किलों भरी थी, लेकिन हर बार जब भी उन्हें ठोकर लगी, वे फिर से और ज्यादा मजबूत इरादों के साथ खड़ी हो गई। हाल ही में एक अंग्रेजी वेबसाइट ने नताशा के साथ हुए शारीरिक शोषण और घुटने के भयानक चोट की कहानी बयान की है।

phpThumb_generated_thumbnail (3)

नताशा बताती हैं कि मुझे जन्म देने वाली मां ने आत्महत्या की थी। मैंने अपनी आंखों के सामने उन्हें जलते हुए देखा है। मैं साढ़े तीन साल की थी, लेकिन आज भी मुझे उनका जलता हुआ चेहरा और चीखने की आवाजें याद है, जिनके कारण मैं कई रातें सो नहीं पाई। इन भयानक यादों से मैं कभी इससे छुटकारा नहीं पा सकती। लेकिन अब मैं इससे बाहर निकलने का तरीका सीख रही हूं। मैं जानती हूं कि इस घटना से मेरा कोई लेना देना नहीं है, लेकिन फिर भी मैंने अपनी आधी जिंदगी अपने आप से नफरत करते हुए गुजारी है, क्योंकि मैं खुद को इसके लिए दोषी मानती थी। मैंने अपनी मां की मौत के लिए अपने आप को जिम्मेदार माना, मुझे लगता था कि कहीं न कहीं उनकी मौत के लिए मैं भी जिम्मेदार हूूं। मुझे लगता था कि मैं कुछ मदद कर सकती थी, लेकिन मैंने नहीं की। अब मुझे लगता है कि मेरे हाथ में कुछ नहीं था।

ये भी पढ़ें :-  क्या आपको पता है? पार्ले-जी के पैकेट पर बनी ये लड़की कौन है, देखें ये हैरान करदेने वाली तस्वीरें

phpThumb_generated_thumbnail (5)

नताशा के साथ शारीरिक शोषण तब हुआ जब वे सिर्फ 7 साल की थीं। उनकी जिंदगी में जहरीली यादें घोलने वाला उनका अपना ही घरेलू नौकर था। यहां तक कि उस नौकर की मां ने नताशा से कहा कि वो उसके बेटे के साथ भाग कर शादी कर ले। सात साल की उम्र बहुत छोटी होती है। इस उम्र के बच्चे गुडिय़ों और खिलौनों से खेलते हैं, लेकिन नताशा को इस उम्र में ये सब झेलना पड़ा। दुर्भाग्य से यह अपनी तरह की अकेली घटना नहीं थी। 15 साल की उम्र में नताशा के साथ उनके ही रिश्तेदारों और चचेरे भाई-बहनों द्वारा उन्हें शारीरिक और यौन हिंसा का शिकार होना पड़ा।

ये भी पढ़ें :-  स्‍कूल के टाइम में पार्क में इश्क़ लड़ाते पकड़ी गयी लड़किया, तुम पार्क में ये करने आती हो

phpThumb_generated_thumbnail (6)

नताशा बताती हैं ‘मैंने बहुत लम्बे समय तक अपने आप को प्रताडि़त और बेचारा माना। जब हम किसी मुश्किल में होते हैं तब हमें पूरी दुनिया अपने विरोध में खड़ी दिखाई देती है। मुझे सबकुछ निरर्थक लगता था, मुझे अपने आप से इतनी घृणा थी, कि मैं शीशा तक नहीं देखना चाहती थी। मैं जैसा महसूस करती थी, उसके लिए घृणा सबसे आसान शब्द है। यह ऐसी घृणा थी कि जब आप अपने ही शरीर को काटने लगें। इससे आपको थोड़ा अच्छा लग सकता है या आपके उस दर्द का अहसास कुछ कम हो सकता है, जो अंदर ही अंदर आपको खाए जाता है। मैं अपने बाथरूम में बैठकर रोती रहती थी और फर्श पर खून फैला होता था। अपने शरीर पर कटे कि निशान छिपाए, उस दर्द के साथ जो मुझे जीते जी खाए जा रहा था। मैंने आशााएं छोड़ दी थीं। बस एक जिंदा लाश थी। मैं हर सुबह इस सवाल से साथ उठती कि यह जिंदगी किसलिए है?’

phpThumb_generated_thumbnail (7)

17 साल की उम्र तक नताशा ने डांस करना शुरू किया। लेकिन जब वे कॉलेज के दूसरे साल में थीं, तब वे गिर पड़ीं। इससे उन्हें काफी चोट आई। एक सप्ताह तक आराम की सलाह मिलने के बाद भी उन्होंने डांस करना नहीं छोड़ा, क्योंकि आराम करने या सिर्फ चल-फिर पाने की बात उन्हें बिल्कुल पसंद नहीं थी। आखिरकार उन्हें पता था कि अभी उन्हें अभी बहुत कुछ करना है और बहुत कुछ हासिल करना है। लेकिन उनका यह फैसला सही साबित नहीं हुआ, आराम नहीं करने के कारण अंदर से घुटने ट गए और घुटने में पानी भर गया।

ये भी पढ़ें :-  इस महिला को हैं गर्भवती रहनी की आदत, वजह जानकर आपके उड़ जाएंगे होश

phpThumb_generated_thumbnail

नताशा ने 15 साल की उम्र में शराब और सिगरेट पीना शुरू कर दिया था लेकिन जब उनका 5 साल पुराना रिश्ता टूटा तो नशे की आदत काफी बढ़ गई। उनका वजन भी काफी बढ़ गया, ऐसे में शरीर के बेडौलपन की एक एक्स्ट्रा टेंशन भी उनके साथ जुड़ गई। वे एक्सरसाइज नहीं कर सकती थीं, इसलिए उन्होंने जंकफूड खाना छोड़कर पौष्टिक आहार लेना शुरू किया। यहां से उनकी स्थिति में सुधार होना शुरू हुआ। फिर उन्होंने योगा सीखने की शुरूआत की। नताशा ढेरों किताबें लाई, कई वीडियोज देखे और आखिरकार औपचारिक रूप से योगा का सीखने के बाद उन्हें योगा टीचर का प्रमाणपत्र मिला। आज वे न सिर्फ योगा करती हैं, बल्कि लोगों को योग के साथ-साथ डांस भी सिखाती भी हैं। उनकी इंस्टाग्राम पोस्ट पॉजिटिविटी से भरी हुई होती हैं और याद दिलाती हैं कि यदि आप अपने लिए लड़ते हैं, तो जिंदगी भी इस लड़ाई में वे आपका साथ देती हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected