2014 पेशावर आर्मी स्कूल पर हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड अमेरिकी ड्रोन हमले में मारा गया

Jul 12, 2016

इस्लामाबाद | 2014 को पेशावर आर्मी स्कूल पर हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड अमेरिकी ड्रोन हमले में मारा गया. पाकिस्तान के एक वरिष्ठ सुरक्षाकर्मी ने दावा करते हुए कहा की उनके पास पक्की जानकारी है की पेशावर आर्मी स्कूल पर हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड अपने एक आतंकी साथी के साथ अफगानिस्तान में मारा गया.

पाकिस्तान के अख़बार का दावा

पाकिस्तान के अख़बार ‘द डॉन’ में छपी खबर के अनुसार अमेरिकी ड्रोन ने अफगानिस्तान के नांगराहर क्षेत्र में पेशावर आर्मी स्कूल पर हुए आतंकी हमले का मास्टरमाइंड उमर मंसूर को मार गिराया है. पाकिस्तान के एक वरिष्ठ सुरक्षाकर्मी ने दावा किया है की उनके पास उमर मंसूर के मारे जाने की पक्की जानकारी है. उन्होंने दावा किया की उमर मंसूर के साथ उनके एक साथी सैफुल्ला भी मारा गया.

अमेरिका ने किया था ग्लोबल टेररिस्ट घोषित

इसी साल 25 मई को अमेरिका ने उमर मंसूर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया था. उमर मंसूर से पहले अमेरिका तालिबान के लीडर मुल्ला मंसूर को मार चूका है. मुल्ला मंसूर भी अमेरिका के ड्रोन हमले में मारा गया था. मुल्ला मंसूर के मारे जाने के 4 दिन बाद अमेरिका ने उमर मंसूर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित कर दिया. इससे उमर मंसूर आतंकियों की हिट लिस्ट में आ गया था. मारे गए दूसरे आतंकी सेफुल्ला को सुसाईड हमलावरों के इंचार्ज के तौर पर जाना जाता था.

122 बच्चे मारे गए थे पेशावर आर्मी स्कूल में

16 दिसम्बर 2014 को पाकिस्तान के पेशावर में आतंकी हमला हुआ. आर्मी स्कूल पर हुए इस आतंकी हमले में 122 स्कूली बच्चे और 22 टीचर मारे गए. इस हमले को पाकिस्तान के इतिहास का सबसे बड़ा आतंकवादी हमला कहा गया. इस आतंकी हमले के बाद पूरे पाकिस्तान में आतंकवादियों के लिए गुस्सा फूट पड़ा. पाकिस्तान आर्मी ने पूरे पाकिस्तान में आतंकवादियों के खिलाफ व्यापक पैमाने पर ऑपरेशन चलाया. माना जाता था की उमर मंसूर ने पूरे हमले की योजना रची थी.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>