लोंग कहते है मेरे साथ एक रात गुजारो और 80000 तुम्हारा

Apr 25, 2016

कानपुर के रतनलाल नगर में रहने वाली पूजा सक्सेना भले ही लड़की हो लेकिन इनका लुक लड़को जैसा है। पूजा ने बताया कि उन्हें अपनी ब्वॉयज लुक पर्सनालिटी की वजह से बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा। वह बताती हैं कि मैं एक बार हाईटेक कॉलगर्ल बनना चाहती थी और इसके लिए कदम भी बढ़ा लिया था।

मुझे एक रात का 80 हजार रुपए का ऑफर भी मिला था, लेकिन मां ने मुझे रोक लिया। पूजा ने बताया, मुझे लोगों ने रात गुजारने का खुलकर ऑप्शन दिया। मुझे कानपुर में ही एक रात के लिए 60 हजार रुपए तक का ऑफर मिल चुका है। मेरे लिए अब ये नॉर्मल लगता है।

मैं 12 साल की थी तब पिता संजय सक्सेना की मौत हो गई थी। मां और 6 साल के भाई की पूरी जिम्मेदारी मेरे ऊपर आ गई। 13 साल की उम्र में एक बिजनेसमैन के यहां खाना बनाने का काम शुरू किया। एक दिन बिजनेसमैन ने फिजिकल रिलेशन बनाने के लिए उसे 150 रुपए का ऑफर दिया। जिस मैंने ठुकरा कर वहां से भागकर अपनी इज्जत बचाई।

पूजा के मुताबिक, घर में जो थोड़े बहुत रुपए रखे हुए थे उससे तकरीबन एक साल तक उनका गुजारा हो गया। धीरे-धीरे रिश्तेदारों ने भी मुंह मोड़ लिया। इसके बाद उसे एक लोकल कंपनी में रिसेप्शनिस्ट का जॉब मिला। इस बीच उसने मैथ सब्जेक्ट से बीएससी कर लिया।

उनके मुताबिक, खानदान में ये जेनेटिक प्रॉब्लम है। उनके चाचा और ताऊ की भी एक-एक लड़की इसी तरह हैं। पार्टी में जाने पर लोग पूछते हैं कि लड़का हूं या लड़की। पूजा बताती हैं कि जब मैं पांच साल की थी तो मेरे घर किन्नरों की टोली आई थी।

वे मुझे अपने साथ ले जाने की जिद्द करने लगी थी। पापा ने जब उनको समझाया और मेरा फिजिक दिखाया तो वे वापस लौटे थे। मोहल्ले में आज भी बहुत से लोग हैं जो मुझे हिजड़ा समझते हैं और कमेंट करते है। पूजा इस समय ब्यूटीशियन हैं और गरीब लड़कियों का फ्री में ब्राइडल मेकअप करती हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>