पंजाब: AAP को बड़ा झटका, 32 कार्यकर्ताओं ने दिया इस्तीफा

Jul 23, 2016

फाजिल्का- पंजाब में अपनी छवि बनाने उतरे अरविन्द केजरीवाल को करारा झटका लगा है। दरअसल लोक सभा हल्का फिरोजपुर फाज़िलका के इंचार्ज सहित 32 आप पार्टी के वर्करों ने पार्टी की नीतियों से तंग आकर दिया एक साथ इस्तीफा दे दिया है। जिसकी जानकारी इस्तीफा देने वाले पार्टी वर्करों ने प्रे कॉन्फ्रेंस बुलाकर दी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए कहा वर्करों ने कहा कि पार्टी जिन सिद्धन्तों को लेकर चली थी उसको लेकर पार्टी हाई कमान में कोई आस्था नहीं है और उनको पार्टी हाई कमान द्वारा पंजाब के हक में कोई भी पालिसी नजर नहीं आई। वहीँ पंजाब में पार्टी की चल रही गतिविधियों को दिल्ली से आई टीमो के इशारों पर चलने के लगाए आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी में ना ही पंजाब की कोई कदर है और न ही पंजाबी की कोई कदर है। और यहाँ तक की पार्टी में किसी भी वर्कर और लीडर तक की कोई कदर नहीं है और कहा कि कोई भी नीति बनाने किसी तरह का फैंसला लेने और उसे लागु करवाने में पंजाब की किसी तरह की कोई भागीदारी नही है।

उन्होंने कहा कि पार्टी में करप्शन बुरी तरह हावी हो चुकी है। उन्होंने इल्जाम लगाते कहा की पार्टी में किसी वर्कर की नई भर्ती से लेकर कोई भी ओहदा देने के लिए पैसो की माँग की जाती है और कहा कि पार्टी की किसी भी बैठक में वर्करों की बात सुनने की बजाए हाई कमान द्वारा निर्देश दिए जाते है। उन्होंने पार्टी में टिकटों की बाट को लेकर कहा की पार्टी वर्करों को टिकट देने लालच देकर बड़े स्तर पर पैसा खाया गया है और यहाँ तक की बोली भी लगाई गई है और कहा की कोनसी सीट कितने में बिकी है इसका खुलासा बहुत जल्द सबूतों के साथ किया जाएगा। उन्होंने एस आई एल के मुद्दे पर कहा की एस आई एल के खिलाफ खड़ी है उन्होंने कहा की अरविन्द केजरीवाल द्वारा सुप्रीम कोर्ट में पंजाब के खिलाफ बयान बाजी की गई है।

पार्टी की लेडी विंग की हल्का फिरोजपुर जॉन इंचर्ज ने कहा कि वह पार्टी के लिए पिछले दो सालों से काम कर रही है उन्होंने इल्जाम लगाते कहा की आम आदमी पार्टी में किसी भी कार्यकर्ता ओहदेदार की कई अहमियत नही है और पार्टी के पंजाब ऑब्जर्वर पंकज रँगा पर जॉन में ग्रुपबजी खड़ी करने का आरोप लगते कहा की जो उसकी पैसो की डिमांड पूरी करता है उसकी सुनवाई की जाती है। उन्होंने पार्टी की बैठक में उसके साथ हुई बदतमीजी का आरोप पंजाब ऑब्जर्वर लगाते कहा की उसके इशारे पर उससे बैठक में उसके साथ इतनी बदतमीजी की गई की वह मीडीया के सामने बता तक नही सकती उसने इल्जाम लगाते कहा की पैसे लेकर आगे किये कैंडीडेटो के इशारे पर उसको पार्टी दफ्तर में बुला कर पार्टी के 70 वर्करों के सामने उसके साथ बदतमीजी की गई और इनके डर के कारण किसी भी वर्कर ने उसका साथ नहीं दिया। और पार्टी ऑब्जर्वर को शिकायत करने पर उल्टा उसपर ही दबाव डाला गया। रिपोर्ट- @इन्द्रजीत सिंह

 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>