पठानकोट आतंकी हमले में शहीद जवान के भैया-भाभी की थाने के सामने पिटाई

May 16, 2017
पठानकोट आतंकी हमले में शहीद जवान के भैया-भाभी की थाने के सामने पिटाई

विदेश जाने के चक्कर में लोग कैसे एजेंटों के जाल में फंसकर अपना सारा पैसा गवा देते है। इसका ताज़ा मामला गुरदासपुर के कस्बा भैणी मियां खान से पता चलता है। ये धोखाधड़ी पठानकोट आतंकी हमले में शहीद हुए जवान कुलवंत सिंह के भाई हरदीप सिंह और उनकी पत्नी के साथ हुआ है।

धोखाधड़ी करने वाला एजेंट गुरनाम सिंह और उनका परिवार इतना दबंग था कि थाने के बाहर ही हरदीप और उनकी पत्नी की पिटाई कर दी। पिटाई करने में गुरनाम के दो बेटों और उसके परिवार की महिलाओं ने भी साथ दिया। लेकिन पिटाई करते हुये सभी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए। पुलिस ने इस मामले में 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
हरदीप और उसकी पत्नी का कहना है कि हमने एजेंट गुरनाम सिंह को फ्रांस भेजने के लिए करीब 9 लाख रूपए दिए थे। जबकि ट्रेवल एजेंट ने उसे फ्रांस भेजने की बजाय टूरिस्ट वीजा पर इंडोनेशिया भेज दिया। 20 दिन बाद भारत वापस भेजा दिया। भारत वापस आते ही हरदीप ने गुरनाम से पैसे वापस मांगे। तब एजेंट ने वादा किया था कि पैसे लौटा देंगे लेकिन नहीं लौटाए। पंचायत आदि के दबाव पर गुरनाम ने तीन लाख रुपए वापस दिए लेकिन बाकी के पैसे हजम कर गया।

पैसो को लेकर ही हरदीप और उसकी पत्नी थाने गए शिकायत करने, थाने से बाहर निकलने के बाद दोनों एक दुकान पर मोबाइल चार्ज कराने गए। वहीं घुसकर गुरनाम और उसके परिवार ने हरदीप और उनकी पत्नी की पिटाई कर दी। हरदीप और उनकी पत्नी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। शहीद कुलवंत सिंह के बेटे और हरदीप के भतीजे सुरिंदर सिंह ने आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के साथ अपने परिवार के साथ इंसाफ की मांग की है।
वही थाना भैणी मियां खान के सब इंस्पेक्टर विजय कुमार का कहना है कि हरदीप सिंह की शिकायत और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गुरनाम सिंह और उसके दो बेटों समेत 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही सभी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>