भारतीय रिजर्व बैंक को मिला तजुर्बेकार गवर्नर उर्जित पटेल

Aug 22, 2016
भारतीय रिजर्व बैंक को मिला तजुर्बेकार गवर्नर उर्जित पटेल

लंबे इंतजार के बाद भारतीय रिजर्व बैंक के 24वें गवर्नर के रूप में उर्जित पटेल के नाम पर आखिरकार वित्त मंत्रालय ने अपनी मुहर लगा दी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली के बीच हुई मैराथन बैठक के बाद उर्जित पटेल को देश के केंद्रीय बैंक का सर्वोच्च पद सौंपा गया है. हम आपको दे रहे हैं डा. उर्जित पटेल के बारे में कुछ खास जानकारियां…

जन्म एवं शिक्षा

गुजरात में 28 अक्टूबर 1963 को हुआ जन्म लंदन स्कूल आफ इकोनामिक्स से स्नातक येल यूनिर्वसटिी से अर्थशास्त्र में पीएचडी 1986 में ऑक्सफोर्ड विवि से एम फिल

अनुभव

बोस्टन और रिलायंस इंडस्ट्रीज में अपनी सेवाएं दीं आईडीएफसी लिमिटेड में मुख्य नीति अधिकारी रहे विद्युत मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में रहे गुजरात पेट्रोलियम और आवास बैंक के निदेशक रहे स्टेट बैंक आफ इंडिया के डायरेक्टर भी रहे हैं पटेल मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में गैर कार्यकारी निदेशक रहे मुद्रास्फीति लक्ष्य और रेट सेटिंग पैनल में सलाहकार रहे मुद्राकोष में सलाहकार के रूप 1990-1995 में काम किया 1995 से 1997 में मुद्राकोष की तरफ से आरबीआई में रहे 2000 से 2004 में राज्य और केंद्र की कई समितियों में रहे प्रत्यक्ष कर पर बने टास्क फोर्स और प्रतिस्पर्धा आयोग में रहे

 

आरबीआई का सफर

सात जनवरी 2013 को भारतीय रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर बने इस साल जनवरी में तीन साल के लिए री-अप्वाइंट किया गया भारतीय रिजर्व बैंक के निदेशक के रूप में कार्य कर चुके हैं पटेल

राजन से रिश्ते
उर्जित पटेल अपने काम में एकदम परफेक्ट थे इसलिए उनके रिश्ते रघुराम राजन से बहुत बेहतर रहे. डा. उर्जित पटेल अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष में भी राजन के साथ काम कर चुके हैं. वहां भी उनके रिश्ते राजन से अच्छे थे. पटेल राजन के गवर्नर नियुक्त होने से पहले ही आरबीआई में आ गए थे.

चुनौतियां
आरबीआई के नए गवर्नर के पास सबसे बड़ी चुनौती महंगाई कंट्रोल करने की होगी. साथ ही मोदी सरकार के कई अहम सुधारों की जिम्मेदारी भी उन्हीं के कंधे पर होगी.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>