पाकिस्तान पहुँची गीता अब भारतीय रेल से बिहार और झारखंड मे माँ-बाप की तलाश करेगी

Jul 02, 2016

बचपन में भटक कर पाकिस्तान पहुँची गीता अब भारतीय रेल की मेहमान बनकर बिहार और झारखंड में नगर-नगर घूम कर अपने माँ-बाप की तलाश करेगी.

कई वर्ष पहले गलती से पाकिस्तान चली गई और बाद में गत वर्ष अक्तूबर में भारत लौटी मूक बधिर लड़की गीता के लिए सरकार गर्मियों के बाद एक ट्रेन यात्रा का इंतजाम करेगी ताकि अभिभावकों को खोजने में उसकी मदद की जा सके.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सहयोग से एक प्रयास शुरू किया जिसके तहत गीता की तस्वीर राज्य के सभी पुलिस थानों में भेजी गई थी. इसके बाद वहां से कुछ संदेश आये थे लेकिन गीता ने तस्वीरें देखकर उन्हें खारिज कर दिया था.

ये भी पढ़ें :-  बेरोजगारों की रैली रोकने पर छिटपुट हिंसा, हैदराबाद में तनाव

उन्होंने कहा कि गीता ने सुझाव दिया था कि वह ट्रेन से बिहार और झारखंड की यात्रा कर सकती है ताकि वह रेल स्टेशनों के जरिये अपने मूल स्थान की पहचान कर सके क्योंकि उसे वह स्टेशन याद है जो उसके निवास के पास था.

 

प्रवक्ता ने कहा, ‘विदेश मंत्री ने इस मुद्दे को रेल मंत्री के साथ उठाया था और हम उम्मीद करते हैं कि इस गर्मी के मौसम में हम उसके लिए यात्रा की व्यवस्था कर पाएंगे. हम उम्मीद करते हैं कि गीता को रेल मंत्रालय एक मेहमान के तौर पर यात्रा करने के लिए आमंत्रित करेगा.

ये भी पढ़ें :-  लीबिया में आईएस के चंगुल से आंध्र प्रदेश के डॉक्टर राममूर्ति को छुड़ाया गया

इस यात्रा के दौरान गीता के साथ एक सहायक और एक ‘इंटरप्रेटर’ भी होगा.’

उन्होंने कहा कि गीता इंदौर के संस्थान में खुश है जहां वह आत्मनिर्भर बनने के लिए कौशल सीख रही है. उन्होंने कहा, ‘वह कौशल विकास प्रशिक्षण से बहुत खुश है.’

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected