‘अग्निपरीक्षा’ को तैयार साइना नेहवाल

Aug 11, 2016

रियो डि जिनेरियो: लंदन ओलिंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद देशवासियों की नूरे नजर बनी साइना नेहवाल पर एक बार भी एक अरब से अधिक भारतीयों की उम्मीदों का दारोमदार होगा जब वह और 6 अन्य बैडमिंटन खिलाड़ी रियो ओलिंपिक में अपने अभियान का आगाज करेंगे।

साइना ने अपने ओलिंपिक अभियान का आगाज 18 बरस की उम्र में किया था जब वह बीजिंग ओलिंपिक के क्वार्टर फाइनल में पहुंची थी । वह उसमें इंडोनेशिया की मारिया क्रिस्टीन यूलियांटी से हार गई थी जिसके बाद लंदन में उसने कांस्य पदक जीता । इस बार उसकी नजरें पीले तमगे पर है चूंकि ग्रुप जी में लोहानी विसेंटे और मारिया उलिटिना जैसे कम अनुभवी खिलाड़ी हैं ।

ये भी पढ़ें :-  महिला विश्व कप: 2005 की कसर पूरा करने उतरेगी भारतीय टीम..

साइना के लिए पिछले दो साल काफी उतार चढाव भरे रहे जिसमें उसने अपने अभ्यास का केंद्र हैदराबाद से बेंगलूर शिफ्ट किया जहां उसने पूर्व मुख्य कोच विमल कुमार के साथ अभ्यास किया। उसने आल इंग्लैंड और विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक जीते जबकि इंडिया ओपन और चाइना प्रीमियर सुपर सीरीज खिताब जीतकर दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनी। पिछले साल के आखिर में लगी टखने की चोट के कारण वह जूझती रही और मलेशिया , सिंगापुर और इंडोनेशिया में लगातार अच्छे प्रदर्शन के बाद जून में आस्ट्रेलिया ओपन खिताब जीता। अब उसके पास ओलिंपिक स्वर्ण जीतने का सुनहरा मौका है और साइना ने कहा कि वह उसी सप्ताह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहेंगी ।

ये भी पढ़ें :-  श्रीलंका के तेज गेंदबाज मलिंगा मडराया खतरा, उसके खिलाफ होगी ये कार्रवाई..

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>