वसीम रिजवी के बयान पर सीएम योगी ने दिया बड़ा बयान बोले– “किसी भी मदरसे को बंद नहीं किया जायेगा”

Jan 19, 2018
वसीम रिजवी के बयान पर सीएम योगी ने दिया बड़ा बयान बोले– “किसी भी मदरसे को बंद नहीं किया जायेगा”

कुछ दिनों पहले यूपी के शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के द्वारा मदरसों में दी जाने वाली शिक्षा को आतंकबाद से जोड़कर उन्हें बंद कराने की मांग रखी गयी थी, जिसको यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने खारिज करते हुए कहा कि कोई भी मदरसा बंद नहीं होगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कल गुरूवार के दिन हुई नौ उत्तरी राज्यों के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रियों की समन्वय समिति की बैठक का उद्घाटन करते हुए कहा गया कि “हम मदरसों के आधुनिकीकरण की तरफ ध्यान दे सकते हैं, बंद करना किसी समस्या का समाधान नहीं है, बल्कि समय के साथ हम उनमें व्यापक सुधार कर सकते हैं। आगे सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस बारें में बात हुए कहा कि मैं तो संस्कृत विद्यालयों से भी यही कहता हूं कि वे परम्परागत शिक्षा जरूर लें लेकिन प्रतिस्पर्धा में बने रहना है तो उसके साथ अंग्रेजी, विज्ञान, गणित और कम्प्यूटर का भी ज्ञान होना चाहिए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगे भी बयान देते हुए बताया कि मदरसो में दी जाने वाली शिक्षा के साथ साथ हमे उसमे विज्ञान और कम्प्यूटर भी जोड़ना होगा, तभी उस शिक्षा के माध्यम से विद्यार्थियों के सामने एक बेहतर भविष्य की राह दिखाई देगी।”

ये भी पढ़ें :-  कासगंज हिंसा पर बीजेपी विधायक बोले-'कासगंज हिंसा वाले इलाकों के हर घर में AK-47 है'

बता दे कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने विधानभवन के तिलक हॉल में इस बारे में बात करते हुए कहा कि, ‘जब हम अल्पसंख्यक कल्याण की बात करते है तब हमारे सामने बहुत सारे सवाल खड़े होते हैं, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय पर इसकी बेहद अहम जिम्मेदारी है, इसी दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर हमारे शरीर का कोई अंग काम करना बंद करता है तो हमें दिव्यांग कहा जाता है. अगर समाज में किसी व्यक्ति के साथ भेदभाव होता है तो वो अपने आपको उपेक्षित महसूस करता है’।

आपको बता दे कि मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, ‘जब से मुख्तार अब्बास नकवी मंत्री बने है और यूपी में उनके आगमन हुआ है, यहां अल्पसंख्यक कल्याण योजनाओं के क्रियान्वयन में काफी तेजी आई है, इसी बारें में आगे भी उन्होंने बताया कि, सरकार में उनके 9 महीने के कार्यकाल में ही 100 से भी अधिक कार्य पर योजनाओं की शुरुआत अल्पसंख्यकों के लिए की गई है’। बता दे कि कल गुरूवार के दिन हुई समन्वय समिति की बैठक में केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी के साथ-साथ 9 और राज्यों के मंत्री उत्तर प्रदेश, हरियाणा,बिहार, दिल्ली,उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर तथा पंजाब सहित शामिल हुए थे।

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक: बदमाशों ने काट दिया दूल्हे का प्राइवेट पार्ट, 5 दिन बाद होनी वाली थी शादी
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>