स्वामी के प्रस्ताव पर आज़म खान बोले, बाबरी मस्‍जिद जहाँ थी वहीं बननी चाहिए, कुर्बानी के लिए हम तैयार

Mar 30, 2017
स्वामी के प्रस्ताव पर आज़म खान बोले, बाबरी मस्‍जिद जहाँ थी वहीं बननी चाहिए, कुर्बानी के लिए हम तैयार

पूर्व समाजवादी सरकार में मंत्री आजम खान ने सरयू नदी किनारे बाबरी मस्जिद बनाने के सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा दिए गए प्रस्ताव पर कहा है कि बाबरी मस्‍जिद जहाँ थी वहीं होनी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि 22/23 दिसम्बर 1949 की रात को जहां बाबरी मस्जिद थी केवल वही बाबरी मस्जिद है, बाकी कहीं नहीं है। अगर कोई मस्जिद बनती है तो जरूरी नहीं कि वो बादशाह बाबर के नाम पर हो।
सपा नेता आजम खान ने मंदिर-मस्‍जिद विवाद में अब तक हिन्‍दुओं की ओर से साढ़े तीन लाख लोगों की कुर्बानी देने वाले बयान पर कहा कि हम कुर्बानिया देने के लिए तैयार हैं। हमने मुजफ्फरनगर, दादरी और गुजरात में कुर्बानिया दी हैं, आगे के लिए भी तैयार हैं।

आजम खान ने योगी सरकार के वैध बूचडखानो पर कार्यवाही नही करने के फैसले पर नाराजगी जाहिर कि कहा की यह वैध और अवैध बूचडखाना क्या होता है। बूचडखाने सभी एक जैसे होते है। उसमे भी जानवर ही कटते है। इसलिए अगर आप कहते है की जानवरो का काटना गलत है तो वैध बूचडखानो में जानवर काटना सही और अवैध बूचडखानो में गलत कैसे हो सकता है। मैं लम्बे समय से कहता आया हूँ की सभी बूचडखानो को पुरे तरीके से बंद कर देना चाहिए। इसलिए क़ानूनी रूप से भी किसी भी जानवर को काटने की इजाजत कैसे दी जा सकती है। उन्‍होंने मांग की पूरे देश में एक कानून होना चाहिए। केरल, त्रिपुरा, मेघालया, गोवा, बंगाल आदि राज्यों में भी गोवध नहीं होना चाहिए और अगर देश एक है तो कानून भी एक होना चाहिए।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>