देश विरोधी बयान देने पर बरकती इमाम पद से बर्खास्त, नरेंद्र मोदी के खिलाफ जारी किया था फतवा

May 18, 2017
देश विरोधी बयान देने पर बरकती इमाम पद से बर्खास्त, नरेंद्र मोदी के खिलाफ जारी किया था फतवा

पश्चिम बंगाल की टीपू सुल्तान मस्जिद के इमाम इमाम नूर उर रहमान बरकती को बुधवार को देश के खिलाफ आपत्तिजनक और भड़काऊ टिप्पणी करने के कारण उनके पद से हटा दिया गया। ये बर्खास्तगी बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सरकारी गाड़ियों से लाल बत्ती हटाए जाने के आदेश के बाद बरकती ने उनके खिलाफ फतवा जारी कर दिया था।
मस्जिद बोर्ड ऑफ ट्रस्टी के प्रमुख शाहज़ादा अनवर अली शाह ने कहा कि बरकती ने मुस्लिम समुदाय के साथ धोखा किया है और लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। उनके बयान ने देश और समुदाय दोनों को नुकसान पहुंचाया है, जिसमें कि सचाई तो यह है कि वे आरएसएस जैसी ताकतों को बढ़ावा दे रहे हैं।प्रमुख शाहज़ादा ने कहा था कि इमाम की ऐसी हरकतों को देखकर मस्जिद बोर्ड ने फैसला लिया है कि उन्हें अब इस इमाम पद से हटा देना चाहिए। साथ ही प्रमुख ने कहा था कि बरकती पर यह भी आरोप लगे हैं कि उन्होंने अपने खुद के कामो और अपने बिजनेस के लिए मस्जिद परिसर का गलत रूप से इस्तेमाल किया है।
लाल बत्ती के मुद्दे पर इमाम बरकती ने कहा था कि बत्ती न हटाने के लिए उनसे मुख्यमंत्री ममता बेनर्जी ने ही कहा था। वहीं विवाद को बढ़ता देख इमाम ने लाल बत्ती अपनी गाड़ी से हटा दी थी। बता दें कि बरकती ने अपनी गाड़ी से लाल बत्ती हटाने के लिए इंकार कर दिया था और कहा था कि वह एक धार्मिक नेता हैं और वह कई दशकों से लाल बत्ती का इस्तेमाल कर रहे हैं। बरकती को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बेनर्जी का करीबी माना जाता है। इमाम बरकती को कई बार तृणमूल कांग्रेस की रैलियों में भी देखा जा चूका है।

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक: पत्नी नहीं तो बेटी के साथ ही बनाता था संबंध...
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>