OMG! इस मंदिर में भगवान की जगह पूजी जाती है Royal Enfield

Jun 30, 2016

जोधपुर के एक मंदिर में भगवान की मूर्ति की जगह भक्तों की पूजा करने के लिए रॉयल एनफील्ड बाइक रखी गई है।

जी हां, रॉयल एनफील्ड बाइक वाला यह मंदिर एन-एच 21 हाईवे पर रोपार से 20 किमी और चंडीगढ़ से 50 किमी दूर छुटपुर चुंदिया गांव के पास स्थित है। अपनी सफल यात्रा के लिए दिनभर में सौ से ज्यादा लोग इस मंदिर में पूजा के लिए जाते हैं।

हालांकि इस मंदिर के बनने का कारण कोई धार्मिक जुड़ाव नहीं बल्कि अंधविश्वास है। दरअसल, यह रॉयल एनफील्ड बाइक गांव के मुखिया ओम वना की थी जिन्हें इस बाइक से बेहद लगाव था। उन्हें अपनी इस बाइक से पत्नी से भी ज्यादा प्यार था।

1988 में ओम वना की एक सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। वे बाइक से जाते हुए एक पेड़ से टकरा गए थे जिसमें उनकी मौत हो गई। दुर्घटना के बाद पुलिस ने बाइक को थाने ले जा कर खड़ा किया। लेकिन अगली सुबह बाइक अपने आप दुर्घटना स्थल पर पहुंच गई।

इसके बाद पुलिस वालों ने बाइक को वापस थाने ले जाकर उसकी पेट्रोल की टंकी खाली की और चेन से बांध दिया। फिर भी अगली सुबह बाइक दुर्घटना स्थल पर ही मिली। लोकल पुलिस ने बाइक को थाने में रखने की कई नाकाम कोशिश की।

निवासियों ने यह सब जानने के बाद मानना शुरू कर दिया कि बाइक के साथ ओम की आतमा जुड़ी है और इसलिए उन्होंने वहां मंदिर बनाने का फैसला किया। लोगों का मानना है कि वहां से गुजर रहे यात्री यदि वहां दर्शन न करें तो उनकी यात्रा असफल होती है।

वहां बाइक पर तिलक लगा कर लाल धागा बांधने का रिवाज है। लोग ओम वना के नाम के लोक गीत गाते हैं और कुछ ड्राइवर अपनी यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए शराब की छोटी बोतल भी चढ़ाते हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>