NSG पर भारत को मिले समर्थन से बौखलाया पाक

Jun 09, 2016

अमेरिका, स्वीट्जरलैण्ड और मैक्सिको के एनएसजी की सदस्यता के लिए भारत का समर्थन देने पर पाकिस्तान बौखला गया है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने सदस्यता पर समर्थन के लिए एनएसजी देशों के डिप्टोमैटिक मिशन को अपनी बात समझाने के लिए बुलाया. पाकिस्तान ने इन देशों से कहा कि भारत को एनएसजी मेंबरशिप मिलना दक्षिण एशिया की स्ट्रैटिजिक स्टेबिलिटी पर नकारात्मक असर डालेगा.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने 3 देशों के विदेश मंत्रियों से बात कर एनएसजी सदस्यता के मसले पर समर्थन की बात कही.

पाकिस्तान के समाचार पत्र द डॉन की खबर के मुताबिक अजीज ने रूस,न्यूजीलैण्ड और दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्रियों से फोन पर बात की. अजीज ने तीनों देशों के विदेश मंत्रियों से एनएसजी सदस्यता के मसले पर पाकिस्तान का समर्थन करने की बात कही.

ये भी पढ़ें :-  अफगानिस्तान में बैंक के बाहर कार बम विस्फोट, 20 मरे

पाकिस्तान के विदेश विभाग के प्रवक्ता के मुताबिक अजीज की तीनों देशों से बातचीत को पाकिस्तान की कोशिश माना जा सकता है.

अजीज ने सदस्यता के लिए पाकिस्तान के मजबूत दावे का जिक्र किया. एनएसजी देशों के साथ ब्रीफिंग सेशन में पाकिस्तान के विदेश विभाग में यूएन डेस्क की प्रमुख तस्नीम असलम ने कहा कि हमारे पास विशेषज्ञता के अलावा,मैनपावर,बुनियादी ढांचा और एनएसजी मानकों के तहत कंट्रोल्ड एटॉमिक आइटम और सर्विस देने की क्षमता है. इतना ही नहीं पाकिस्तान के पास शांति कार्यों के वास्ते देने के लिए पर्याप्त परमाणु समान मौजूद है.

तस्लीन ने कहा कि मैं ब्रीफिंग में आए सभी प्रतिनिधियों से अपील करती हूं कि वे एनएसजी मेंबरशिप के मसले पर नॉन एनपीटी देशों का समर्थन करने में भेदभाव न करें.

ये भी पढ़ें :-  पाकिस्तान में विस्फोट, लगभग इतने लोगों की मौत की आशंका

गौरतलब है कि चीन लगातार भारत की एनएसजी में एंट्री का विरोध कर रहा है. पाकिस्तान और चीन का तर्क है कि परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर किए बिना भारत को एनएसजी की सदस्यता नहीं दी जा सकती.

भारत की बढ़ती सैन्य ताकत से भी पाकिस्तान परेशान है. भारत के एंटी बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली विकसित करने पर गंभीर चिंता जताते हुए पाकिस्तान ने कहा कि यह भारत को सुरक्षा की झूठी तसल्ली दे सकता है. इससे अप्रत्याशित पेचीदगी बढ़ेगी,जो दोस्ताना संबंध वाले पड़ोस की इसकी नीति के उलट है.

सरताज अजीज ने 15 मई को भारत की ओर से स्वदेशी सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल के सफल परीक्षण पर गहरी चिंता प्रकट की है. यह मिसाइल दुश्मन की किसी मिसाइल को हवा में ही नष्ट कर सकती है. अजीज ने कहा कि ऐसे कदम भारत की पड़ोसियों से दोस्ताना संबंध की नीति के बिल्कुल उलटे है.

ये भी पढ़ें :-  पाकिस्तान में भी मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>