नोट बंदी की वजह से बंद हुआ बिज़नेस, बच्चो की पढ़ाई के लिए माँ ने किडनी बेचने का लिया फैसला

Jun 02, 2017
नोट बंदी की वजह से बंद हुआ बिज़नेस, बच्चो की पढ़ाई के लिए माँ ने किडनी बेचने का लिया फैसला

नोट बंदी को मोदी सरकार का मास्टर स्ट्रोक बताने वाले नेता आगरा की आरती के इस फेसबुक पोस्ट पर नज़र डाले जो कहते फिरते थे नोट बंदी के फैसले से थोड़ी बहुत समस्या हुई भी है तो वो कुछ दिनों में खत्म हो जाएगी। लेकिन वो लोग शायद यह नही जानते की ये कुछ दिन आरती के परिवार पर कितने भारी पड़ रहे है।

आगरा के रोहता में रेडिमेड कपड़ो का बिज़नेस करने वाले मनोज शर्मा का कारोबार भी नोट बंदी की भेट चढ़ गया। इसी कारोबार के सहारे वो अपने परिवार को चलाते थे। लेकिन अचानक से हुई नोट बंदी ने उनके ऊपर मुसीबतों का पहाड़ तोड़ दिया। अब तो हालात ऐसे हो गए है कि स्कूल में बच्चो की फीस भरने के भी लाले पड़ गए है। ऐसे में उनकी मदद न सरकार कर रही है और न ही वो लोग जो इस फैसले को मास्टर स्ट्रोक बता रहे है।

कही से मदद का सहारा न मिलने से मनोज शर्मा की पत्नी आरती शर्मा ने बच्चो की पढ़ाई के लिए अपनी किडनी बेचने का फैसला किया है। अपने फेसबुक अकाउंट पर सारी परेशानी लिखते हुए आरती ने बताया की पिछले तीन महीनो से उनके बच्चो की फीस स्कूल में जमा नही हो पायी है जिसकी वजह से स्कूल वालो ने बच्चो को स्कूल आने से मना कर दिया है। आरती ने आर्थिक मदद के लिए मुख्यमंत्री योगी और प्रधानमंत्री मोदी से भी गुहार लगायी लेकिन वहां से भी कोई मदद नही मिल पायी। उन्होंने स्थानीय अधिकारों से भी मदद मांगी लेकिन कुछ फायदा नही हुआ। इसके बाद थक हार कर आरती ने फेसबुक पर अपनी किडनी बेचने का फैसला किया। उन्होंने लिखा की जिस किसी को भी किडनी की जरुरत है वो मुझसे सम्पर्क करे। फ़िलहाल यह पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>